Top

आम्रपाली फ्रॉड मामला: चार्जशीट में धोनी का नाम, पत्नी साक्षी ने किया बड़ा खेल

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 25 July 2019 9:26 AM GMT

आम्रपाली फ्रॉड मामला: चार्जशीट में धोनी का नाम, पत्नी साक्षी ने किया बड़ा खेल
X
आम्रपाली फ्रॉड मामला: चार्जजशीट में धोनी का नाम, पत्नी साक्षी ने किया बड़ा खेल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्‍ली: महेंद्र सिंह धोनी एक ऐसा नाम हैं, जो विवादों से दूर रहना पसंद करते हैं। मगर धोनी और उनकी पत्‍नी साक्षी धोनी का नाम आम्रपाली समूह धोखाधड़ी मामले की चार्जशीट में सामने आया है। वैसे तो धोनी ने हमेशा इसी बात का दावा किया है कि आम्रपाली समूह के वह केवल ब्रांड एम्‍बेसडर थे लेकिन रजिस्‍ट्रार ऑफ कंपनीज के दस्‍तावेजों को देखें तो उसमें कंपनी और धोनी के रिश्तों की और दास्तां सामने आ रही हैं।

यह भी पढ़ें: एयरटेल का महा ऑफर, इस ऑफर के जरिए ऐसे लें 33GB फ्री डेटा का लाभ

फ़िलहाल, अब इस मामले में साक्षी धोनी का नाम भी सामने आया है। बता दें, Amrapali Mahi Developers Pvt Ltd (AMDPL) नाम की एक कंपनी में साक्षी सिंह धोनी डायरेक्‍टर और 25% की शेयरहोल्‍डर थीं, जबकि आम्रपाली के सीएमडी अनिल कुमार शर्मा इस कंपनी के 75% मालिक हैं। सितंबर 2014 के दस्‍तावेज इस बात का खुलासा कर रहे हैं। Amrapali Mahi Developers Pvt Ltd की तकरीबन 47 कंपनियां ऐसी हैं, जिनपर पैसों का घालमेल किए जाने का आरोप है।

क्या है पूरा मामला?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, साल 2009 में धोनी ने आम्रपाली ग्रुप के साथ कई समझौते किए और कंपनी के ब्रैंड एंबेसडर बने। धोनी आम्रपाली ग्रुप के साथ छह साल तक जुड़े रहे, लेकिन 2016 में जब कंपनी द्वारा ठगे गए होम बायर्स ने सोशल मीडिया पर धोनी के खिलाफ अभियान छेड़ा तो उन्होंने आम्रपाली से संबंध खत्म कर दिये। धोनी की पत्नी साक्षी भी ग्रुप के चैरिटी कार्यक्रम से जुड़ी थीं।

यह भी पढ़ें: लसिथ मलिंगा का ‘विदाई’ मैच आज, बांग्लादेश के खिलाफ खेलेंगे आखिरी ODI

सुप्रीम कोर्ट इस समूह के खिलाफ 46 हजार घर खरीदारों की याचिका पर सुनवाई की, जिन्हें समय पर फ्लैट नहीं दिया गया। कोर्ट ने समूह की सभी संपत्तियों को जब्त करने का आदेश भी दिया। ऐसे में धोनी भी अपने वित्तीय हित की रक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। एमएस ने कोर्ट से कहा था कि उनके हितों की रक्षा के लिए ग्रुप के जमीन में से एक खंड उनके लिए भी निश्चित हो।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story