Top

ऑस्ट्रेलिया ओपन के फाइनल में पहुंचे थीम, 7बार चैंपियन रहे जोकोविच से होगा सामना

डोमिनिक थीम ने एक सेट से पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए जर्मनी के अलेक्सांद्र जेवरेव को हराकर शुक्रवार को पहली बार ऑस्ट्रेलिया ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया जहां उनका सामना सात बार के चैंपियन नोवाक जोकोविच  से होगा।

suman

sumanBy suman

Published on 1 Feb 2020 5:03 AM GMT

ऑस्ट्रेलिया ओपन के फाइनल में पहुंचे थीम, 7बार चैंपियन रहे जोकोविच से होगा सामना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेलबर्न डोमिनिक थीम ने एक सेट से पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए जर्मनी के अलेक्सांद्र जेवरेव को हराकर शुक्रवार को पहली बार ऑस्ट्रेलिया ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश किया जहां उनका सामना सात बार के चैंपियन नोवाक जोकोविच से होगा।

ऑस्ट्रिया के 26 वर्षीय और यहां पांचवीं वरीयता प्राप्त थीम ने सातवीं रैंकिंग के जेवरेव को 3-6, 6-4, 7-6 (7/3), 7-6 (7/4) से पराजित किया। अब उन्हें जोकोविच की कड़ी चुनौती का सामना करना होगा जिन्होंने गुरुवार को दूसरी वरीयता प्राप्त रोजर फेडरर को सीधे सेटों में हराया था। थीम को सर्बियाई खिलाड़ी के खिलाफ बेहतरीन खेल दिखाना होगा। जोकोविच पिछले 12 मैचों से अजेय हैं और उन्होंने अब तक कभी ऑस्ट्रेलियाई ओपन का फाइनल नहीं गंवाया है।

यह पढ़ें....Australian open-फेडरर को लगा झटका, 21वां ग्रैंड स्लैम का सपना टूटा

डोमिनिक थीम ने मैच के बाद कहा, 'यह अविश्वसनीय मैच था । दो टाईब्रेकर हुए इसलिए यह कड़ा था और यह काफी करीबी मुकाबला था। उसकी सर्विस तोड़ना बेहद मुश्किल था। ऑस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में पहुंचना अविश्वसनीय है। यह सत्र की शानदार शुरुआत है।

' इससे पहले थीम दो बार फ्रेंच ओपन के फाइनल में पहुंच चुके हैं लेकिन दोनों बार उन्हें राफेल नडाल ने हराया। थीम ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन के क्वार्टर फाइनल में स्पेनिश खिलाड़ी को हराकर बदला चुकता किया।

ऑस्ट्रेलिया ओपन महिला एकल फाइनल में गैर वरीय गार्बाइन मुगुरूजा का सामना सोफिया केनिन से होगा और टूर्नामेंट से पहले सेरेना विलियम्स को प्रबल दावेदार मान रहे टेनिसप्रेमियों ने इस फाइनल की कल्पना भी नहीं की होगी। उलटफेरों से भरे टूर्नामेंट में 21 वर्ष की केनिन अगर स्पेन की मुगुरूजा को हरा देती है तो ‘जाइंट किलर ’ साबित होंगी। ऐसा करने पर वह सेरेना को पछाड़कर अमेरिका की नंबर एक खिलाड़ी भी बन जायेगी।

यह पढ़ें... सुपरओवर का रोमांच, भारत ने न्यूजीलैंड को हराया, 4-0 से बनाई बढ़त

अमेरिका की 38 वर्ष की सेरेना ऑस्ट्रेलिया की मार्गरेट कोर्ट के 24 ग्रैंडस्लैम के रिकार्ड की बराबरी से एक खिताब दूर है।उन्हें तीसरे दौर में चीन की वांग कियांग ने हराया। गत चैम्पियन नाओमी ओसाका भी तीसरे चरण में 15 वर्ष की कोको गॉ से हार गई थी। गॉ को अमेरिका की केनिन ने मात दी। शीर्ष दस में से छह खिलाड़ी तीसरे दौर में ही हार गए जिससे लग रहा था कि दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी एशले बार्टी की राह आसान हो गई है। मॉस्को में जन्मी 14वीं वरीयता प्राप्त केनिन ने सेमीफाइनल में उन्हें हराया।

suman

suman

Next Story