Top

विरोट कोहली-अनुष्का को लेकर सानिया मिर्जा ने पूछा ऐसा सवाल, हो जाएंगे हैरान

टेनिस स्टार सानिया मिर्जा को उनके बेबाक बयानों के लिए जाता है। वह हमेशा अपने बयानों की वजह से चर्चा में रहती हैं। एक बार फिर वह चर्चा में हैं। उन्होंने क्रिकेट दौरों के दौरान क्रिकेटरों की पत्नियों और महिला मित्रों को साथ जाने की अनुमति नहीं देने आलोचन करते हुए सवाल खड़े किए हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 4 Oct 2019 9:37 AM GMT

विरोट कोहली-अनुष्का को लेकर सानिया मिर्जा ने पूछा ऐसा सवाल, हो जाएंगे हैरान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: टेनिस स्टार सानिया मिर्जा को उनके बेबाक बयानों के लिए जाता है। वह हमेशा अपने बयानों की वजह से चर्चा में रहती हैं। एक बार फिर वह चर्चा में हैं। उन्होंने क्रिकेट दौरों के दौरान क्रिकेटरों की पत्नियों और महिला मित्रों को साथ जाने की अनुमति नहीं देने आलोचन करते हुए सवाल खड़े किए हैं।

सानिया मिर्जा ने एक इवेंट के दौरान कहा कि यह रवैया उस मानसिकता से बना है, जिसमें महिलाओं को ताकत नहीं बल्कि ध्यानभंग करने वाली माना जाता है। सानिया ने कहा कि लड़कियों को छोटी उम्र से ही खेलों में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें...NRC पर बांग्लादेश की पीएम ने दिया बड़ा बयान, विरोधियों को लगा झटका

टेनिस स्टार से जब विश्व कप में पाकिस्तानी टीम की हार के बारे में पूछा गया तो सानिया ने पूछा कि आखिर वह इसके लिए कैसे जिम्मेदार हैं? उन्होंने कहा कि जब विराट शून्य बनाते हैं तो अनुष्का शर्मा को दोषी ठहराया जाता है, लेकिन इसका कहां से लेना देना है। इसका कोई मतलब नहीं बनता।

यह भी पढ़ें...पाकिस्तान हो जाएगा तबाह! भारत ने सीमा पर तैनात किया ये मिसाइल्स

सानिया मिर्जा ने जमकर किए हमले

उन्होंने कहा कि कई बार हमारी क्रिकेट टीम और कई अन्य टीमों में मैंने देखा है कि पत्नियां या महिला मित्रों को दौरे पर जाने की अनुमति नहीं दी जाती, क्योंकि लड़कों का ध्यान भंग हो जाएगा। सानिया ने कहा कि इस सबका का क्या मतलब है? महिलाएं ऐसा क्या करती हैं जिससे पुरुषों का ध्यान इतना भंग हो जाता है?

सानिया मिर्जा ने कहा कि देखिए यह चीज उस गहरी मानसिकता से आती है, जिसमें माना जाता है कि महिलाएं ताकत नहीं, बल्कि ध्यान भंग करती हैं।

यह भी पढ़ें...पाकिस्तान पर गोलीबारी! वायु सेना ने जारी किया बालाकोट स्ट्राइक वीडियो

...मिलता है सहयोग

टेनिस स्टार सानिया ने कहा कि यह साबित भी हो चुका है कि टीम में पुरुष खिलाड़ी तब बेहतर प्रदर्शन करते हैं जब उनकी पत्नियां और महिला मित्र और उनका परिवार उनके साथ रहता है, क्योंकि इससे जब वे कमरे में पहुंते हैं तो उन्होंने खुशी महसूस होती है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story