सेमीफाइनल के रिजल्ट से पहले भारत के लिए खुशखबरी, इस खिलाड़ी ने रचा इतिहास

भारतीय धाविका दूतीचंद ने इटली के नेपल्स में 30वें वर्ल्ड समर यूनिवर्सिटी गेम्स की 100 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली देश की पहली महिला एथलीट बन गई हैं।

नई दिल्ली: भारतीय धाविका दूतीचंद ने इटली के नेपल्स में 30वें वर्ल्ड समर यूनिवर्सिटी गेम्स की 100 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली देश की पहली महिला एथलीट बन गई हैं। भारतीय धाविका ने अपना पदक जीतने के बाद खुशी जताते हुए इसकी तस्वीर और मस्कट के फोटो को ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा, ‘तुम मुझे जितना पीछे खींचोगे, मैं उतनी मजबूती से वापस आऊंगी।’

यह भी पढ़ें…बुलन्दशहर: आईएएस अभय सिंह के घर पर सीबीआई का छापा

दूती की इस कामयाबी पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें बधाई दी है। राष्ट्रपति ने लिखा कि आपको बधाई दूती यूनिवर्सिटी गेम्स में 100 मीटर रेस में स्वर्ण जीतने पर। यह भारत के लिए इन खेलों में पहला स्वर्ण है और देश के लिए गौरव का क्षण है। अपने प्रयासों को जारी रखिए और ओलंपिक में हम इसी तरह की जीत की अपेक्षा करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुती को बधाई दी है।

ओडिशा की दुती चंद के नाम 11.24 सेकंड का राष्ट्रीय रिकॉर्ड है और वह विश्व स्तर पर 100 मीटर में गोल्ड जीतने वाली पहली भारतीय बन गई हैं। वहीं वैश्विक स्तर पर गोल्ड जीतने वाली दूसरी भारतीय धाविका बन गई हैं। उनसे पहले हिमा दास ने पिछले साल ने वर्ल्ड जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 400 मीटर में गोल्ड जीता था।

यह भी पढ़ें…राजनीतिक नाटकबाजी का गवाह बना मुंबई का होटल, रद्द की शिवकुमार की बुकिंग

पिछले साल हुए एशियन गेम्स में 100 मीटर और 200 मीटर दोनों में सिल्वर जीतने वाली दुती ट्रैक एंड फील्ड में वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में गोल्ड जीतने वाली दूसरी भारतीय बन गई हैं। उनसे पहले 2015 में इंद्रजीत सिंह ने मेंस शॉट पुट में गोल्‍ड जीता था।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App