Top

उम्मीद है टूर्नामेंट के दौरान अच्छे विकेट मिलेंगे : जडेजा

जडेजा ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यह इंग्लैंड की आम परिस्थितियां जैसा था। विकेट शुरू में नरम था लेकिन मैच आगे बढ़ने के साथ यह बेहतर होता गया। हम उम्मीद कर रहे हैं कि विश्व कप में हमें इतनी अधिक घास वाले विकेट नहीं मिलेंगे और वे बल्लेबाजी के लिये अनुकूल होंगे।’’

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 26 May 2019 7:22 AM GMT

उम्मीद है टूर्नामेंट के दौरान अच्छे विकेट मिलेंगे : जडेजा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लंदन: आलराउंडर रविंद्र जडेजा को उम्मीद है विश्व कप के दौरान केनिंगटन ओवल की पिच की तुलना में बेहतर पिचों पर मैचों का आयोजन होगा। ओवल की पिच पर अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाजी को तहस नहस करने में कसर नहीं छोड़ी थी।

जडेजा एकमात्र भारतीय बल्लेबाज रहे जिन्होंने इस मैच में अर्धशतक जमाया लेकिन इस आलराउंडर ने कहा कि चिंता करने की कोई बात नहीं है।

ये भी देंखे:रात में सोने से पहले करें ये काम, होगें झटपट होठ गुलाबी और मखमल

जडेजा ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यह इंग्लैंड की आम परिस्थितियां जैसा था। विकेट शुरू में नरम था लेकिन मैच आगे बढ़ने के साथ यह बेहतर होता गया। हम उम्मीद कर रहे हैं कि विश्व कप में हमें इतनी अधिक घास वाले विकेट नहीं मिलेंगे और वे बल्लेबाजी के लिये अनुकूल होंगे।’’

भारत ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन उसकी टीम गेंदबाजों की अनुकूल परिस्थितियों में 179 रन पर सिमट गयी। न्यूजीलैंड ने आसानी से लक्ष्य हासिल कर दिया।

जडेजा ने कहा, ‘‘यह हमारा पहला मैच है। यह केवल एक मैच था और हम एक खराब पारी, खराब मैच के आधार पर खिलाड़ियों का आकलन नहीं कर सकते हैं। इसलिए बल्लेबाजी इकाई के रूप में चिंता की कोई बात नहीं है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इंग्लैंड में हमेशा मुश्किल होती है। आप भारत से आ रहे हो जहां आप सपाट विकेट पर खेलते हो। हमारे पास इस पर काम करने के लिये अब भी समय है। चिंता की कोई बात नहीं है, हमें अच्छी क्रिकेट खेलनी जारी रखनी होगी।’’

जडेजा ने कहा, ‘‘बल्लेबाजी इकाई के रूप में हमें अपने बल्लेबाजी कौशल पर अधिक कड़ी मेहनत करनी होगी। प्रत्येक अनुभवी है, इसलिए चिंता की बात नहीं।’’

जडेजा ने कहा कि जब वह 20वें ओवर में क्रीज पर उतरे तो उनका लक्ष्य बल्लेबाजी के लिये मिले इस मौके का फायदा उठानाा था।

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने खुद से कहा कि शॉट का मेरा चयन गलत नहीं होना चाहिए। जल्दबाजी की कोई जरूरत नहीं है। काफी ओवर बचे हुए थे और इसलिए मैंने समय लिया।’’

जडेजा ने कहा, ‘‘मैं जानता था कि अगर मैं शुरुआती ओवर झेल लेता हूं तो धीरे धीरे मेरे लिये काम आसान हो जाएगा। मैंने शुरू में मैंने अपने शॉट को सीमित रखा। इससे फायदा मिला। मैंने उनके शुरू में किये गये अच्छे ओवरों को संभलकर खेला और इसके बाद मेरे लिये काम आसान हो गया। ’’

ये भी देंखे:26 मई : नरेन्द्र मोदी ने आज के ही दिन ली थी प्रधानमंत्री पद की शपथ

गेंदबाजों के लिये अनुकूल परिस्थितियों में भारत का पहले बल्लेबाजी का फैसला करने के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘हम जानते थे कि परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के अनुकूल हैं और इसलिए हमने कड़ी परिस्थितियों में बल्लेबाजी करने का फैसला किया क्योंकि अगर हम इस तरह की परिस्थितियों में खेलते हैं तो असल मैचों में हमारे लिये आसानी होगी। हमने इसे चुनौती के तौर पर लिया। हम अच्छा प्रदर्शन करेंगे। इसमें कोई संदेह नहीं। ’’

जडेजा ने 50 गेंदों पर 54 रन बनाये। उन्होंने अपनी बल्लेबाजी के बारे में कहा, ‘‘मैंने आईपीएल के दौरान अपनी बल्लेबाजी पर काम किया। जब भी मुझे मौका मिलता है मैं नेट पर जाकर अपनी मूल तकनीक और शाट चयन पर काम करता हूं। ’’

(भाषा)

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story