Top

ये 5 झामफाड़ खिलाड़ी अब कभी नजर नहीं आएंगे आईपीएल में !

आईपीएल समाप्त हो चुका है। दिल्ली ने जिस तरह वापसी की वो हैरान करने वाली थी क्योंकि किसी को उम्मीद ही नहीं थी कि युवा खिलाड़ियों से सजी टीम कुछ खास कर सकती है। इस सबके बीच दुखी कर देने वाली खबर भी इंतजार करती मिली। जानिए क्या है ये दुखी करने वाली खबर।   

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 May 2019 9:49 AM GMT

ये 5 झामफाड़ खिलाड़ी अब कभी नजर नहीं आएंगे आईपीएल में !
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : आईपीएल समाप्त हो चुका है। दिल्ली ने जिस तरह वापसी की वो हैरान करने वाली थी क्योंकि किसी को उम्मीद ही नहीं थी कि युवा खिलाड़ियों से सजी टीम कुछ खास कर सकती है। इस सबके बीच दुखी कर देने वाली खबर भी इंतजार करती मिली। जानिए क्या है ये दुखी करने वाली खबर।

ये भी देखें : जैसे जैसे ‘गालियों की डोज़’ बढ़ रही, वैसे वैसे जनता के ‘प्यार की डोज़’ भी बढ़ रही: मोदी

इस सीजन खेलें ये पांच खिलाड़ी शायद अगले साल आईपीएल खेलते नजर नहीं आएंगे।

युवराज सिंह -

युवी 37 साल से ज्यादा के हैं, फॉर्म-फिटनेस में गिरावट आ रही है। आईपीएल 2019 की नीलामी में ही बड़ी मुश्किल से बिके थे। मुंबई उन्हें रिलीज करती है, तो शायद कोई दूसरी टीम उन्हें खरीदना नहीं चाहेगी।

इस सीजन में उन्होंने मुंबई के लिए कुल 4 मैच खेले। जिसमे 24.50 की औसत से 98 रन बनाये।

हरभजन सिंह-

हरभजन 38 पार कर चुके हैं। चेन्नई सुपर किंग्स के लिए शानदार गेंदबाजी की। उन्होंने 11 मैचों में 7.09 की इकॉनामी रेट से कुल 16 विकेट लिए।

ये भी देखें : दिनेश शर्मा इंटरव्यू: भाजपा के लिए शुभंकर साबित हो रही हैं विपक्षी दलों की गलतियां

युसूफ पठान-

युसूफ 36 के हो चुके हैं। सनराइजर्स हैदराबाद के लिए 10 मैच खेले। जिसमें 40 रन बनाए। स्ट्राइक रेट रहा 88.88 का।

शेन वाटसन-

शेन वाटसन 37 साल से ज्यादा के हो चुके हैं। फाइनल मैच कौन भूल सकता है, जब चेन्नई को जीत के पास ले गए थे।

लसिथ मलिंगा-

लगभग 37 के मलिंगा ने मुंबई को फाइनल में 1 रन की रोमांचक जीत दिलाई। सीजन में 12 मैच खेले और इस दौरान उनका इकॉनामी रेट 9.76 का रहा। विश्व कप 2019 के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अपने संन्यास का ऐलान कर चुके हैं।

ये भी देखें : विद्यासागर पर हमला बांग्ला भाषा पर हमला है: महेश भट्ट

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story