आईपीएल टीमों का बड़ा ऐलान, धोनी के फैंस को मिली निराशा

अब नहीं खेला जायेगा आल स्टार मैच, आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की हुई अहम बैठक में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने ऑल स्टार मैच की थी घोषणा

अब नहीं खेला जाएगा आल स्टार मैच। काफी समय से चर्चा का विषय बना हुआ आल स्टार मैच खबर है कि अब नहीं खेला जायेगा। जैसा कि ग्यात है कि आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की हुई अहम बैठक में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने ऑल स्टार मैच की घोषणा की थी। खबर थी कि इस साल आईपीएल से पहले आल स्टार मैच का आयोजन किया जायेगा।

बीसीसीआई पहले ही ज़ारी कर चुकी है आईपीएल शेड्यूल

काफी समय से ये चर्चा चल रही थी कि इस साल आईपीएल से पहले ऑल स्टार मैच मुंबई में खेला जाएगा। हालांकि बीसीसीआई पहले ही आईपीएल के 13वें सीजन का पूरा शेड्यूल जारी कर चुकी है जो कि 29 मार्च से शुरू होगा। बीसीसीआई के ज़ारी शेड्यूल में कहीं भी ऑल स्टार मैच का जिक्र नहीं है। आईपीएल की सभी टीमों को पहले ही आधिकारिक तौर पर बताया जा चुका है कि इस साल ऑल स्टार मैच का आयोजन नहीं किया जाएगा।

ये भी पढ़ें- ट्रंप का मिनट टू मिनट दौरा: यहां जानें कब-कहां-क्या करेंगे अमेरिका के राष्ट्रपति

चैरिटी के लिए खेला जाना था मैच

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ये मैच एक चैरिटी के लिए फंड इकट्ठा करने के लिए कराना चाहते थे। पिछले महीने नई दिल्ली में हुई आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की अहम बैठक में सौरव गांगुली ने ऑल स्टार मैच की घोषणा की थी। जिसमें एशिया इलेवन और वर्ल्ड इलेवन के बीच मुकाबला खेला जाना था। पहले ये मुकाबला अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में 25 और 26 मार्च को खेला जाना था।

मैच खेलने को नहीं तैयार टीमें

मैच न होने की एक वजह यह थी कि कोई भी टीम आईपीएल की शुरुआत से पहले ये मैच खेलने को तैयार नहीं थी। फ्रेंचाइजीयों का कहना है कि टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले खिलाड़ियों को ट्रेनिंग कैंप की ड़रूरत है। साथ ही फ्रेंचाइजी को अपने खिलाड़ियों के चोटिल होने का भी डर था।

ये भी पढ़ें- मनमोहन सिंह का मोदी सरकार पर हमला, आर्थिक हालात पर कह दी ये बात

कौन देगा पैसा

टीमों का खेलने से मना करने का एक और कारण यह था कि इस मैच के लिए खिलाड़ियों को पैसा कौन देगा। भारतीय खिलाड़ी तो बिना पैसे के भी खेलने को तैयार हो जाते लेकिन विदेशी खिलाड़ी ऐसे खेलने के लिए तैयार नहीं होते। बीसीसीआई विदेशी खिलाड़ियों को पैसा देगी या नहीं इस पर भी स्थिति साफ नहीं थी।