हिंदू होने की वजह से मुझसे बात नहीं करते थे खिलाड़ी :दानिश कनेरिया

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने पाकिस्तान की टीम में शामिल रहे एक हिन्दू खिलाड़ी को लेकर बहुत बड़ा और चौंकाने वाला खुलासा किया है।

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने पाकिस्तान की टीम में शामिल रहे एक हिन्दू खिलाड़ी को लेकर बहुत बड़ा और चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व स्पिनर दानिश कनेरिया हिंदू था इस वजह से उसके साथ भेदभाव होता था।

हिंदू होने की वजह से उनके साथ भेदभाव होता था

पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर खिलाड़ी दानिश कनेरिया ने उनके हिंदू होने की वजह से उनके साथ भेदभाव के शोएब अख्तर के आरोपों को सही बताया है। कनेरिया ने एक बातचीत में कहा कि, शोएब ने सच कहा है। मैं जल्द ही उन खिलाड़ियों के नाम सामने लाऊंगा, जो मुझसे हिंदू होने की वजह से बात नहीं करते थे।

ये भी पढ़ें:Birthday Special: दबंग खान के घर पहुंचे सितारें, दिया उनको ये सरप्राइज

उन्होंने आगे कहा, ”शोएब महान खिलाड़ी हैं। उनमें सच कहने का साहस है। मैं जब खेल रहा था, तब इन मसलों पर सच कहने की हिम्मत मुझमें नहीं थी। लेकिन शोएब भाई के बयान के बाद, मैं भी बोलूंगा। इंजी भाई (इंजमाम-उल-हक), मोहम्मद युसूफ और यूनिस भाई (यूनिस खान) ने भी हमेशा मुझे सहयोग किया। मैं उन लोगों का नाम दुनिया के सामने लाऊंगा, जिन्होंने मेरे साथ भेदभाव किया।”

शोएब ने एक चैट शो में कहा था- मेरी दानिश को लेकर साथी खिलाड़ियों से लड़ाई हुई

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने गेम ऑन नाम के एक टीवी चैट शो में कहा था, दानिश हिंदू था। इसलिए उसके साथ नाइंसाफी हुई। कुछ खिलाड़ियों को तो इस बात पर ऐतराज था कि वो हमारे साथ खाना क्यों खाता है? इस शो में शोएब के साथ पूर्व कप्तान राशिद लतीफ और पूर्व मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज आसिम कमाल भी थे। क्रिकेट एक्सपर्ट डॉक्टर नुमान रियाज शो को होस्ट कर रहे थे।

शोएब ने दानिश को लेकर कहा था, ”मेरी दो-तीन खिलाड़ियों से लड़ाई हुई। मैंने कहा कि अगर कोई हिंदू है तो भी वो खेलेगा। और उसी हिंदू (दानिश) ने हमें टेस्ट सीरीज जिताई। डॉक्टर रियाज ने फौरन कहा- दानिश ने जिताई। शोएब ने आगे कहा, बात खुल जाएगी। लेकिन, बता दूं कुछ खिलाड़ियों ने मुझसे कहा कि यह (दानिश) यहां से खाना क्यों ले रहा है। मैंने उनसे कहा कि मैं (शोएब) तुम्हें यहां से उठाकर बाहर फेंक दूंगा। कप्तान होगे, तुम अपने घर के। वह (दानिश) तुम्हें 6-6 विकेट लेकर दे रहा है। इंग्लैंड में दानिश और शमी ने ही हमें सीरीज जिताई थी।”

दानिश कनेरिया पाकिस्तान की तरफ से खेलने वाले दूसरे हिंदू खिलाड़ी हैं। उनसे पहले अनिल दलपत ने ऐसा किया था। कनेरिया ने पाकिस्तान के लिए 61 टेस्ट में 34.79 की औसत से 261 विकेट लिए थे। उन्होंने 18 वनडे भी खेले थे।

ये भी पढ़ें:राबड़ी देवी ने ऐश्वर्या का सामान घर से निकाल फेंका, पिता ने लेने से किया इंकार

दानिश 2009 में स्पॉट फिक्सिंग के दोषी पाए गए थे

39 साल के इस लेग स्पिनर को 2009 में डरहम के खिलाफ मैच में स्पॉट फिक्सिंग का आरोप लगाया था। उस सीजन में कनेरिया एसेक्स की तरफ से खेले थे। असल में, काउंटी के एक वनडे मैच में कनेरिया ने साथी खिलाड़ी मर्विन वेस्टफील्ड को एक ओवर में 12 रन देने के लिए तैयार किया था। इसके बाद इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने इंग्लिश खिलाड़ी पर 5 साल का बैन लगा दिया था और उसे जेल जाना पड़ा था।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App