Top

इस पूर्व खिलाड़ी ने अपने बच्चों और पत्नी को जलाया जिंदा, बाद में खुद भी कर ली आत्महत्या

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 20 Feb 2020 4:46 AM GMT

इस पूर्व खिलाड़ी ने अपने बच्चों और पत्नी को जलाया जिंदा, बाद में खुद भी कर ली आत्महत्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ऑस्ट्रेलिया के एक पूर्व रग्बी प्लेयर ने बुधवार को अपने तीन बच्चों और पत्नी को कार में बंदकर जला दिया। घटना में उनके तीनों बच्चों की तत्काल मौत हो गई। वहीं घायल पत्नी को हॉस्पिटल ले जाया गया जहां उसकी भी मौत हो गई। बैक्स्टर ने बाद में अपने बच्चों को जलता देख खुद भी आत्महत्या कर दी।

पूर्व रग्बी प्लेयर ने अपने तीन बच्चों और पत्नी को कार में बंदकर जला दिया

मामला ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन का है। ब्रिसबेन के कैंप हिल इलाके में सुबह साढ़े आठ बजे के बीच एक धमाके के बाद अचानक चिल्लाने की आवाजे आने लगी। लोग बाहर आए तो उन्होंने देखा रोवन की पत्नी हैना उनके तीन बच्चे छह साल की लायना, चार साल की अलिया और तीन साल का ट्रे कार के अंदर फंसे हुए हैं जिसमें आग लगी हुई थी।

बाद में खुद भी कर आत्महत्या

कार के सामने रोवन की लाश भी थी जिसमें खुद को चाकू से घायल करने के घाव थे। लोगों ने जाकर मदद की कोशिश और हैना जो की मौके पर जिन्दा थी उन्हें वह अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

ये भी पढ़े:शाहीन बाग में आज बनेगी बात या जारी रहेगा प्रदर्शन: वार्ताकार आज फिर जाएंगे मनाने

वहां पर मौजूद चश्मदीदों ने बताया कि अचानक धमाके जैसी आवाज आई और जैसे ही वह बाहर निकले तो उन्होंने कार में लगी आग को देखा। हालांकि, उस समय कार खड़ी थी, चल नहीं रही थी. कार से जैसे ही हैना को किसी तरह बाहर निकला गया वह चिल्लाने लगी कि 'उसने मुझपर पेट्रोल डाला'। वहीं पुलिस की जांच के मुताबिक हैना ड्राइविंग सीट पर बैठी थी और रोवन कार से निकलने से पहले फ्रंट सीट पर बैठे थे। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था।

अलग रहता था कपल

खबरों के मुताबिक पूर्व रग्बी खिलाड़ी थे रोवनरोवन और उनकी पत्नी पिछले साल अलग हो गए थे। और उनकी पत्नी अपने पैरेंट्स के घर रहने लगी थी।

ये भी पढ़ें:चीन में मुसलमानों की दुर्दशा

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story