Top

विश्व कप 2019: सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए उज्बेकिस्तान से भिड़ेगा भारत

भारतीय कोच ग्राहम रीड ने कहा, ‘‘विश्व रैंकिंग कतई मायने नहीं रखती क्योंकि टीमों के बीच अंतर बहुत कम है। रैंकिंग केवल अंतरराष्ट्रीय हाकी महासंघ (एफआईएच) का टीम को एक निश्चित क्रम में रखने के लिये है। ’’

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 9 Jun 2019 9:10 AM GMT

विश्व कप 2019: सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए उज्बेकिस्तान से भिड़ेगा भारत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भुवनेश्वर: भारत अपने से कई कम रैंकिंग के उज्बेकिस्तान के खिलाफ सोमवार को यहां होने वाले मैच में बड़ी जीत दर्ज करके एफआईएच सीरीज फाइनल्स हाकी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की करने उतरेगा।

टूर्नामेंट के शुरुआती मैच में रूस को 10-0 से करारी शिकस्त देने के बाद विश्व में पांचवें नंबर के भारत ने 21वीं रैकिंग के पोलैंड को 2-1 से हराया।

ये भी देंखे:बच्चियों से दुष्कर्म व हत्या की घटनाओं पर सख्ती और संवेदनशीलता जरूरी: मायवती

भारत अब पूल ए में शीर्ष पर काबिज है और उसकी सेमीफाइनल जगह लगभग सुनिश्चित लग रही है क्योंकि उसका गोल अंतर काफी है।

लेकिन उसकी टीम पूल ए के अंतिम लीग मैच में विश्व में 43वें नंबर के उज्बेकिस्तान के खिलाफ किसी तरह की आत्ममुग्धता में नहीं रहना चाहेगी क्योंकि इस टूर्नामेंट से दो टीमें अक्टूबर नवंबर में होने वाले एफआईएच ओलंपिक क्वालीफायर्स में जगह बनाएंगी।

भारतीय कोच ग्राहम रीड ने कहा, ‘‘विश्व रैंकिंग कतई मायने नहीं रखती क्योंकि टीमों के बीच अंतर बहुत कम है। रैंकिंग केवल अंतरराष्ट्रीय हाकी महासंघ (एफआईएच) का टीम को एक निश्चित क्रम में रखने के लिये है। ’’

रूस के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बाद पोलैंड के खिलाफ टीम प्रभाव छोड़ने में नाकाम रही। टीम को कुछ क्षेत्रों में निरंतरता बनाये रखने की जरूरत है जिसे टीम को जल्द से जल्द हासिल करना होगा।

पोलैंड के खिलाफ भारत ने गोल करने के कई मौके बनाये लेकिन अग्रिम पंक्ति के खिलाड़ी गोल करने में नाकाम रहे।

रीड ने कहा, ‘‘मेरा एक मुख्य लक्ष्य प्रदर्शन में निरंतरता लाना है। कई बार आपको उच्च स्तर पर खेलना सीखना होता है और जीत की आदत डालनी होती है। आस्ट्रेलिया में हमारा हमेशा यही लक्ष्य रहा कि प्रत्येक टूर्नामेंट के फाइनल में खेलना।’’

रीड ने पहले दो मैचों में अपने गोलकीपरों पी आर श्रीजेश और कृष्ण बहादुर पाठक को चार क्वार्टर में बारी बारी से उतारा लेकिन चिंता की बात यह है कि अभी तक इन दोनों को खास चुनौती नहीं मिली है।

ये भी देंखे:CM योगी सोमवार तक कर सकते हैं टप्पल कांड पीड़ित परिजनों से मुलाकात

भारत की तरफ से नीलकांत शर्मा और कप्तान मनप्रीत सिंह ने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन स्ट्राइकर की फार्म उसके लिये चिंता का विषय है।

इस बीच दिन के अन्य मैचों में पूल बी में अमेरिका का सामना एशियाई खेलों के चैंपियन जापान से जबकि दक्षिण अफ्रीका का मैक्सिको से होगा।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story