WTC Final 2023: क्या टीम इंडिया तोड़ पाएगी 121 साल पुराना रिकॉर्ड..? जानिए ओवल में चेज हुए सबसे बड़े टारगेट के बारे में.

WTC Final 2023: टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबले में अब सिर्फ पांच सेशन का खेल बाकी रहा है। इस मैच पर पहले ही दिन से ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पकड़ मजबूत बना रखी है। लेकिन टीम इंडिया अभी भी इस मैच में करिश्माई प्रदर्शन करते हुए जीत दर्ज कर सकती है।

Suryakant Soni
Published on: 10 Jun 2023 11:55 AM GMT
WTC Final 2023: क्या टीम इंडिया तोड़ पाएगी 121 साल पुराना रिकॉर्ड..? जानिए ओवल में चेज हुए सबसे बड़े टारगेट के बारे में.
X
WTC Final 2023 (Photo: Google Image)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

WTC Final 2023: टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबले में अब सिर्फ पांच सेशन का खेल बाकी रहा है। इस मैच पर पहले ही दिन से ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पकड़ मजबूत बना रखी है। लेकिन टीम इंडिया अभी भी इस मैच में करिश्माई प्रदर्शन करते हुए जीत दर्ज कर सकती है। इसके लिए टीम इंडिया को 121 साल पुराने रिकॉर्ड को ध्वस्त करना होगा। चलिए जानते हैं ऐसा कौनसा रिकॉर्ड हैं जिसको तोड़े बिना टीम इंडिया इस मैच में जीत हासिल नहीं कर सकती है।

टीम इंडिया तोड़ पाएगी 121 साल पुराना रिकॉर्ड..?

चलिए हम आपको बताते हैं इंग्लैंड के द ओवल मैदान पर ऐसा क्या रिकॉर्ड हैं जो टीम इंडिया के लिए परेशानी का सबब बना हुआ हैं। इंग्लैंड के इस मैदान पर टेस्ट इतिहास में कई बड़े मुकाबले खेले गए हैं। पिछले 121 सालों में इस मैदान पर कभी भी 263 रनों से ज्यादा का स्कोर चेज नहीं हो पाया हैं। जबकि इस मैच में टीम इंडिया को 400 रनों से ज्यादा का स्कोर चेज करना पड़ सकता हैं। ऐसे में अगर भारत को जीत दर्ज करनी हैं तो उसे एक नया इतिहास लिखना होगा।

1902 में हुआ था सबसे बड़ा चेज:

द ओवल मैदान पर टेस्ट के चौथे और पांचवें दिन बल्लेबाज़ी करना काफी मुश्किल हो जाता है। इस मैदान पर टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सिर्फ दो बार 250 रनों से अधिक का स्कोर चेज हुआ हैं। जबकि 1902 यानी 121 साल पहले यहां 263 रनों का टारगेट चेज हुआ था, जो अब तक के इतिहास का सबसे बड़ा चेज रहा हैं। 11 अगस्त 1902 को इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को यहां टेस्ट मैच में एक विकेट से रोमांचक मात दी थी। अब देखना बड़ा दिलचस्प होगा कि क्या टीम इंडिया इस रिकॉर्ड को तोड़ पाएगी या नहीं..?

कोहली कर सकते हैं बड़ा धमाका:

इस टेस्ट में टीम इंडिया के बल्लेबाज़ों को दूसरी पारी में करिश्माई प्रदर्शन ही करना होगा। टेस्ट क्रिकेट में बहुत ही कम बार 300 और 400 रनों के टारगेट चेज हो पाए हैं। ऐसे में अब अगर भारत को हार से बचना होगा तो उनके स्टार बल्लेबाज़ विराट कोहली को दमखम दिखाना होगा। उनके अलावा शुभमण गिल और चेतेश्वेर पुजारा से भी टीम को बड़ी उम्मीद रहेगी।

Suryakant Soni

Suryakant Soni

Next Story