kohinoor diamond

1976 में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री जुल्फ़िकार अली भुट्टो ने भी इसकी मांग की थी, जिसे ब्रिटेन ने ख़ारिज़ कर दिया था। 2002 में, इसे महारानी एलिज़ाबेथ के किरीट की शोभा बनाया गया। बाद में 2002 में, इसे उनके ताबूत के ऊपर सजाया गया। 2007 तक कोहिनूर टॉवर ऑफ लंदन में ही रखा गया।

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने कहा है कि कोहिनूर पर दावा करना ठीक नहीं है। क्योंकि अंग्रेज उसे जबरदस्ती नहीं ले गए थे बल्कि उसे अंग्रेजों को गिफ्ट किया गया था। केंद्र सरकार ने यह बात उस वक्त कही जब सुप्रीम कोर्ट ने कोहिनूर को  वापस लाये जाने के संबंध में सरकार से सवाल पूछा। …