×

How to Travel with Pets: अब अपने पालतू जानवर के साथ ट्रेन में कर सकते हैं यात्रा, ऐसे बुक करें टिकट

How to Travel with Pets: घूमने का प्लान तो बना लेते हैं, लेकिन अपने पेट्स यानी पालतू जानवरों की चिंता सबसे पहले होने लगती है। कि जब पूरी फैमिली घूमने के लिए जाएगी, उस समय प्यारे पेट्स को कौन संभालेगा।

Vidushi Mishra
Published on: 23 Jan 2023 3:35 AM GMT
travel with their pets
X

अब अपने पेट्स के साथ ट्रेन में करें यात्रा (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

How to Travel with Pets: हम लोग घूमने का प्लान तो बना लेते हैं, लेकिन कहीं भी जाने से पहले अपने पेट्स यानी पालतू जानवरों की चिंता होने लगती है। कि जब पूरी फैमिली घूमने के लिए जाएगी, उस समय प्यारे पेट्स को कौन संभालेगा। क्योंकि हर जगह अपनी गाड़ी से जाना संभव नही है और ना हीं एयरलाइंस में लेकर जा सकते हैं। इन हालातों में आप बिल्कुल भी परेशान न होईए। जीं हां भारतीय रेलवे के पास आपकी इस परेशानी को दूर करने का हल है। जिसके चलते आप अपने पालतू जानवरों के साथ यात्रा कर सकते हैं। आइए आपको बताते हैं कि कैसे?

यात्रा पर अपने पेट्स को ले जाने के लिए सबसे पहले अपनी डेस्टिनेशन को चुने। जहां पर ट्रेन द्वारा पहुंचा जा सकता है।

जानने वाली बात ये है कि गैर-प्रीमियम और प्रीमियम दोनों ट्रेनें पालतू जानवरों को ले जाने की अनुमति देती हैं। आप अपने पेट्स के साथ ही एसी फर्स्ट क्लास में सफर कर सकते हैं।

(Image Credit- Social Media)

फर्स्ट क्लास में जाएं

फर वाले पेट्स को आपके साथ केवल प्रथम श्रेणी यानी फर्स्ट क्लास के डिब्बे में यात्रा करने की अनुमति है। आइए एसी फर्स्ट क्लास के बारे में जानकारी देते हैं।

एक केबिन या कूप बुक करें

एसी फर्स्ट क्लास में दो विकल्प हैं - या तो चार सीटों वाला केबिन या दो सीटों वाला कूप। ऐसे में पालतू जानवरों के साथ यात्रा करने के लिए आप पूरा केबिन या कूप बुक करते हैं। अपना टिकट बुक करते समय, आप अपनी पसंद के अनुसार कूप का सेलेक्शन कर सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें कि यह आपको कूप मिलने की गारंटी नहीं देता है। चीजों को आसान बनाने के लिए, दो टिकट बुक करें (यदि आप अपने पालतू जानवरों के साथ अकेले यात्रा कर रहे हैं)।

अपने पालतू जानवरों के टीकाकरण

यह सबसे महत्वपूर्ण कार्य है जो आपको जरूर ही करना चाहिए। आपके पालतू जानवरों का टीकाकरण रेबीज और अन्य बीमारियां जैसे पारवो, डिस्टेंपर, पैराइन्फ्लुएंजा, केनेल खांसी जैसे सबके इंजेक्शन लेने होने चाहिए। साथ ही अपने पालतू जानवरों का यात्रा सह स्वास्थ्य प्रमाणपत्र भी अपने पास रखें। ये प्रमाणपत्र पेट्स की सारी जांचे होने के बाद आप पशु चिकित्सक से ले लें।

रेलवे आरक्षण कार्यालय का दौरा यहां सबसे महत्वपूर्ण कदम है। एक कूप या एक केबिन (चार बुकिंग के मामले में) सुनिश्चित करने के लिए, आरक्षण अधिकारी के कार्यालय में जाएं। यहां आपको कूप या केबिन के लिए अपने कारण बताते हुए एक आवेदन जमा करना होगा। आवेदन के साथ, आपको अपने टिकट की एक प्रति, अपनी फोटो पहचान पत्र की एक प्रति और अपने पालतू जानवर के टीकाकरण और स्वास्थ्य प्रमाण पत्र की एक प्रति भी संलग्न करना होगा। बस आवेदन पत्र कार्यालय के बाहर ड्रॉप बॉक्स में डाल दें। बैठने की आवश्यकता नहीं है।

अब प्रस्थान के समय से कुछ घंटे पहले जाएं। एक बार रेलवे स्टेशन पर, आपको पार्सल कार्यालय जाना होगा, जहां आपको अपना कन्फर्म टिकट, टीकाकरण और यात्रा प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा। एक बार जमा करने के बाद, आपके पालतू जानवर का वजन किया जाएगा और प्रति किलोग्राम 30 रुपये का शुल्क लिया जाएगा।

एक बार यह प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद, आपको अपने पालतू जानवरों के लिए 'टिकट' सौंप दिया जाएगा। यह टिकट महत्वपूर्ण है। यदि आप इस टिकट के बिना यात्रा करते हुए पाए जाते हैं तो सामान्य टिकट शुल्क से छह गुना अधिक देना होता है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story