पर्यटन

भाद्रपद कृष्ण अष्टमी को कृष्ण जन्माष्टमी  के तौर पर मनाया जाता हैं। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था, इसलिए चारों ओर खुशियाँ मनाई जाती हैं। इस दिन देश के सभी कृष्ण मंदिरों में पूजा-अर्चना और प्रसाद वितरण किया जाता हैं। देश में मथुरा-वृंदावन के अलावा एक मंदिर ऐसा है जहां जन्माष्टमी के दिन आधी रात को भगवान कृष्ण दर्शन देते हैं।ये हैं द्वारिकाधीश मन्दिर ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस एक भारत श्रेष्ठ भारत की बात की है जौनपुर उसका एक बहुत बड़ा उदाहरण है। इसने समूचे हिंदुस्तान की संस्कृति को अपने में जिया है और पूरी दुनिया को सर्वधर्म समभाव का संदेश दिया है।

देश और दुनिया में रहस्य और आश्चर्य की कमी नहीं हैं। ये रहस्य ऐसे है कि इनके आगे विज्ञान भी फेल है। जिन्हें जान पाना कोई आसान काम नहीं हैं। इस धरती पर कई ऐसी जगहें हैं जो हैरान करने वाली हैं। ऐसी ही एक जगह हैं तुर्की  में है।  यहां के प्राचीन शहर हेरापोलिस में स्थित पुराना मंदिर है

भारत में अयोध्या हैं ये तो सभी को पता है। दक्षिण पूर्व एशिया स्थित देश थाईलैंड भी प्रभु श्रीराम के जीवन से प्रेरित है। थाईलैंड के प्रमुख पर्यटन स्थलों में आता है प्राचीन शहर अयोध्या। अयोध्या इतिहास में स्याम राज्य की राजधानी के तौर पर किया गया है।

घूमने के नाम पर हर किसी को मजा आता है, लेकिन कोरोना की वजह से सब का मजा किरकिरा हो गया है। जो लोग घूमने का शौक रखते हैं, वह अपने इसी शौक की बदौलत बहुत सी नई जगहों का एक्सपीरियंस करते हैं। लेकिन जब पूरी तरह से कोरोना खत्म हो जाए और आप घर से बाहर निकलकर दूसरे देश घूमने जरूर जाएं।

उत्‍तराखंड के चमोली में एक ऐसा मंदिर है। जहां साल में सिर्फ एक बार रक्षाबंधन के दिन ही कपाट खुलते हैं। इस मंदिर को भगवान बंशीनारायण के मंदिर के नाम से जानते हैं। इस मंदिर में सालभर में केवल एक दिन ही पूजा होती है। यह मंदिर समुद्रतल से 12 हजार फीट की ऊंचाई पर है।

हमारे देश में कई मंदिर ऐसे हैं जो चमत्कारी और रहस्यमयी माने जाते हैं। देवभूमि हिमाचल में भगवान शिव के बहुत सारे मंदिर हैं। सबका अपना महत्व है। वहीं हिमाचल के सोलन में जटोली शिव मंदिर स्थित है। यह एशिया का सबसे ऊंचा शिव मंदिर है।

इस दुनिया में कई अजीबो-गरीब चीजे हैं साथ ही कई ऐसी जगह भी हैं जहां जाने पर मनाही है। इन जगहों में से एक है एरिया 51। इस जगह को लेकर लोगों में भिन्नताएं हैं।

यह गांव बहुत डरावना है। कहते हैं कि इस गांव में पालीवाल ब्राह्मणों का डेरा हुआ करता था लेकिन अब इस गांव को शापित मानते हैं। इस गांव में एक खूबसूरत लड़की थी जिसके कारण यह गांव भानगढ़ के किले की तरह अचानक ही एक रात में वीरान हो गया था।

दुनियाभर में ऐसे कई होटल हैं जिनसे वहां आने वाले लोगों को कुछ अलग सा अनोखेपन का एहसास हो। बीते दिनों वियतनाम की राजधानी हनोई में सोने का होटल चर्चा का विषय बना हुआ था।