×

Famous Places in Kanyakumari: कन्याकुमारी मंदिर का इतिहास और घूमने के लिए ये हैं 5 बेस्ट जगहें

Kanyakumari Famous Places: कन्याकुमारी एक ऐसा शहर जो अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए दुनियाभर में मशहूर है। बता दे कन्याकुमारी भारत में तमिलनाडु राज्य का एक शहर है।

Anupma Raj
Written By Anupma Raj
Updated on: 21 Sep 2022 2:29 AM GMT
Famous Places in Kanyakumari
X

Famous Temple and Places in Kanyakumari (Image: Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Famous Places in Kanyakumari: कन्याकुमारी एक ऐसा शहर जो अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए दुनियाभर में मशहूर है। बता दे कन्याकुमारी भारत में तमिलनाडु राज्य का एक शहर है। दरअसल इस शहर को यह नाम इस क्षेत्र में देवी कन्या कुमारी मंदिर – Kanyakumari Temple से दिया गया है। बता दे यह भारत का सबसे बड़ा दक्षिणी द्वीप है। इतना ही नहीं कन्याकुमारी तीन सागरों का संगम का शहर है और एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। आइए जानते हैं कन्याकुमारी मंदिर का इतिहास और घूमने के लिए 5 बेस्ट जगहें के बारे में:

कन्याकुमारी मंदिर (Kanyakumari Temple) जो भगवती अम्मन मंदिर से भी मशहूर

दरअसल कन्याकुमारी मंदिर को भगवती अम्मन मंदिर से भी जाना जाता है और हिंदू पौराणिक कथाओं में यह 108 शक्ति पिठों में से एक है।


बता दे यह मंदिर भारत भर के प्रमुख हिंदू मंदिरों में से एक है और लगभग सभी प्राचीन हिंदू शास्त्रों में इसका उल्लेख किया गया है। इस मंदिर में हर साल हजारों तीर्थयात्रियों यहां आते हैं।

यहां जाने का सबसे अच्छा समय: नवंबर से मार्च

कैसे पहुंचे: समुद्र तट बस स्टैंड से 2 किमी और कन्याकुमारी केंद्र से 3 किमी दूर है। यहां टैक्सी और ऑटो-रिक्शा आसानी से उपलब्ध हैं।

स्वामी विवेकानंद को समर्पित है: विवेकानंद रॉक मेमोरियल ( Vivekananda Rock Memorial)

दरअसल कन्याकुमारी में शानदार स्मारकों में से एक, विवेकानंद रॉक मेमोरियल समुद्र तट से 100 मीटर की दूरी पर स्थित है और यहीकन्याकुमारी में प्रमुख पर्यटन स्थल हैं। यह एक छोटे से द्वीप पर स्थित है, जिसे स्वामी विवेकानंद ने 1892 में तीन दिनों के ध्यान के बाद यहां ज्ञान प्राप्त किया था।


बता दे यह भी माना जाता है कि देवी कन्या कुमारी ने इस चट्टान पर घोर तपस्या की थी। यहां हिंद महासागर के साथ एक विशाल स्वामी विवेकानंद जी की की मूर्ति देखने लायक है!

यहां जाने का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से मार्च

कैसे पहुंचे: यह स्थान कन्याकुमारी केंद्र से 2 किमी दूर है, द्वीप तक पहुंचने के लिए आप तट से एक बोट ले सकते हैं।

2004 में आई सुनामी की तबाही से हुए क्षति को है दर्शाता: सुनामी स्मारक (Tsunami Monument)

सुनामी स्मारक उन लोगों की याद में बनाया गया था जिन्होंने 26 दिसंबर, 2004 को विनाशकारी भूकंप और सूनामी में अपनी जान गंवाई दी थी। बता दे यह 16 फुट का स्मारक, जिसमें दो हाथ हैं, शहर के दक्षिणी किनारे के पास स्थित है।


बता दे बाएं हाथ को दाहिने हाथ पर दीपक को बुझने से एक विशाल नीली लहर को रोकते हुए देखा जा सकता है। यह स्मारक, साहस का प्रतिनिधित्व करता है, इसलिए यह कन्याकुमारी में देखने लायक है।

यहां जाने का सबसे अच्छा समय: नवंबर से मार्च

कैसे पहुंचे: यह स्मारक बस स्टैंड से 1 किमी और कन्याकुमारी केंद्र से 2 किमी दूर है। तो, आपको यहां ऑटो-रिक्शा या टैक्सी किराए पर मिल जाएगी।

भारत माता मंदिर (Bharat Mata Temple) जिसे

दरअसल भारत माता को समर्पित भारत माता मंदिर, कन्याकुमारी का एक दर्शनीय स्थल है। इस मंदिर का आकार 12000 वर्ग फुट है और स्वामी विवेकानंद की 12 फुट ऊंची प्रतिमा के साथ कई अन्य मूर्तियों और चित्रों के लिए यह जाना जाता है।


बता दे मंदिर में एक रामायण मंदिर भी शामिल है, जिसमें 108 लकड़ी के पैनलों पर सुंदर नक्काशीदार मूर्तियों और चित्रों के माध्यम से वाल्मीकि की रामायण की कहानी को दर्शाया गया है। यहां रामायण मंदिर के प्रवेश द्वार पर भगवान हनुमान की 27 फुट ऊंची ग्रेनाइट की मूर्ति एक प्रमुख आकर्षण का केंद्र है।

यहां जाने का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से मार्च

कैसे पहुंचे: आप यहां कन्याकुमारी बस स्टैंड (2 किमी दूर), कन्याकुमारी केंद्र (3 किमी दूर), या शहर के किसी अन्य स्थान से टैक्सी या ऑटो-रिक्शा ले सकते हैं।

तीन प्रमुख जल निकायों का मिलन बिंदु: त्रिवेणी संगम (Triveni Sangam)

दरअसल त्रिवेणी संगम, तीन प्रमुख जल निकायों का मिलन बिंदु है - बंगाल की खाड़ी, अरब सागर और हिंद महासागर , यह एक लोकप्रिय धार्मिक स्थल है। भक्त और पर्यटक दोनों, यहां पवित्र जल में डुबकी लगाते हैं या स्नान करते हैं।


बता दे इस स्थान से समुद्र के शानदार दृश्य और इस विवेकानंद रॉक मेमोरियल और तिरुवल्लुवर स्टैच्यू जैसे प्रमुख आकर्षण भी पास में है। त्रिवेणी संगम की शांत, प्राकृतिक सुंदरता पर्यटकों का ध्यान अपनी ओर खींचती गई।

यहां जाने का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से मार्च

कैसे पहुंचे :यह स्थान बस स्टैंड से सिर्फ 1 किमी और कन्याकुमारी केंद्र से 2 किमी दूर है। यहां पहुंचने के लिए आप ऑटो-रिक्शा या टैक्सी ले सकते हैं।

Anupma Raj

Anupma Raj

Next Story