Top

छत्तीसगढ़: सुकमा में सुरक्षाबलों का ऑपरेशन, मुठभेड़ में मार गिराए गए 14 नक्सली

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 6 Aug 2018 8:13 AM GMT

छत्तीसगढ़: सुकमा में सुरक्षाबलों का ऑपरेशन, मुठभेड़ में मार गिराए गए 14 नक्सली
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सुकमा: छत्तीसगढ़ के सुकमा में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड में 14 नक्सली मारे गए। घटना सुकमा के कोंटा और गोलापल्ली पुलिस स्टेशन सीमा की है। इसे सुरक्षाकर्मियों के लिए बड़ी कामयाबी बताई जा रही है। कहा जा रहा है कि इलाके की घेराबंदी करके हुए सुरक्षा बलों ने गोलीबारी शुरू की। खबर के मुताबिक नक्सलियों के पास से 16 हथियार भी बरामद हुए हैं।

ये है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक गोलापल्ली थाना क्षेत्र से सोमवार की सुबह जवान सर्चिंग पर निकले थे। इसी दौरान नक्सलियों से उनका सामना हो गया। दोनों तरफ से तकरीबन एक घंटे तक गोलीबारी चलती रही। इसके बाद नक्सलियों की ओर से फायरिंग बंद हो गई। जवानों को मोर्चे पर भारी पड़ता देख नक्सली वहां से भाग खड़े हुए। घटना में करीब 14 नक्सली मारे गए।क्षेत्र में नक्सलियों के जमावड़े को देखते हुए अब मुठभेड़ के बाद सघन सर्चिंग भी जारी है। जवान जंगलों में अंदर तक घुसकर नक्सली मांद को ढ़ूंढ रहे हैं। बता दें कि पहली बार भरी बारिश के दौरान पुलिस और सुरक्षा बलों द्वारा बस्तर में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के दौरान कई नक्सलियों ने खुद सामने आकर आत्मसमर्पण करना भी शुरू कर दिया है। अभी दो दिन पूर्व ही मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह घोषणा कर चुके हैं कि नक्सली या तो आत्मसमर्पण करें वरना फोर्स उन्हें मारने के लिए बिल्कुल तैयार है। इसके पहले सरकार लगातार यह कहती रही है कि नक्सली हथियार छोड़कर यदि मुख्यधारा में शामिल होना चाह रहे हों तो सरकार बातचीत के लिए तैयार है। हालांकि अब छत्तीसगढ़ सरकार ने अपनी नीति बदल दी है।

मौके पर करीब 200 नक्सली मौजूद थे

सुकमा में भारी बरसात में पहली बार पुलिस और सुरक्षाबलों की टीम नक्सलियों के खिलाफ जंगल में मोर्चे पर उतरी। यहां जंगलों में सुबह हुई मुठभेड़ में पुलिस और सुरक्षाबलों ने 14 नक्सलियों को मार गिराया। एसपी अभिषेक मीणा ने घटना की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि मौके पर करीब 200 नक्सली मौजूद थे।

तीन अगस्त को भी किया था हमला

बता दें कि इससे पहले तीन अगस्त को छत्तीसगढ़ में बस्तर के अति संवेदनशील जिले बीजापुर के बासागुड़ा गांव में लगे साप्ताहिक बाजार में नक्सलियों ने दहशत फैलाने और पुलिस जवानों को निशाना बनाने के लिए गोलियां चलाईं थीं। जबकि एक जवान को चाकू से हमला किया था। बताया गया कि नक्सलियों ने ये हमला जवानों को निशाना बनाते हुए किया था।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story