Top

आखिर क्यों! एक अनजान नंबर से आई कॉल के बाद बीजेपी विधायक ने किया ब्लड डोनेट

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 April 2017 3:16 PM GMT

आखिर क्यों! एक अनजान नंबर से आई कॉल के बाद बीजेपी विधायक ने किया ब्लड डोनेट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हरदोई : आमतौर पर देखा गया है, कि चुनाव के समय नेता जनता के बीच जाकर चरण वंदना करते हैं। और जब चुनाव गुजर जाते हैं तो जनता को भूल जाते हैं। वहीँ राजधानी लखनऊ से सटे हरदोई जिले के एक विधायक ने इंसानियत की नजीर पेश की है। विधायक ने एक फोन आने के बाद जिला अस्पताल पहुंच, एक एनीमिक लड़के को ब्लड डोनेट कर उसकी जान बचाई।

ब्लड डोनर न होने की वजह से मरीज की माँ ने विधायक को फोन किया था। खास बात ये है, कि पीड़ित परिवार उस इलाके का रहने वाला है, जहाँ चुनाव के समय विधायक प्रचार के लिए गए थे, और अपना मोबाइल नंबर इस परिवार को दिया था। बेटे की जान बचाने वाले विधायक की सहृदयता देखकर महिला ने उन्हें ढेरों दुआएं दी।

ये भी देखें: DU: बीकॉम ऑनर्स में बदलेगा एडमिशन क्राइटेरिया, छात्रों को मिलेगा बराबर का मौका

हरदोई के जिला अस्पताल में ब्लड बैंक में स्ट्रेचर पर लेटे रक्तदान करते, ये हैं विधानसभा सवायजपुर से भाजपा विधायक माधवेन्द्र प्रताप सिंह रानू। विधायक अपने चुनाव प्रचार के दौरान बड़ागांव अर्जुनपुर वोट मांगने गए थे। और वहीँ गाव में अपना फोन नंबर लोगों को दे आये थे।

बड़ागाँव की रहने वाली किरण अग्निहोत्री का लड़का राहुल अग्निहोत्री बीमार हुआ। तो उन्होंने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया।लड़का एनीमिया का शिकार है। चिकित्सको ने उसे ब्लड चढ़ाने के लिए कहा था, लेकिन कोई डोनर नही मिल रहा था और न ही ब्लड की कोई व्यवस्था हो पा रही थी।

ऐसे में किरण को क्षेत्रीय विधायक माधवेन्द्र प्रताप सिंह रानू की याद आयी, कि शायद विधायक ही कुछ मदद कर दें। उन्होंने जब विधायक को अपनी बात बतायी। तो विधायक उनकी उम्मीदों पर खरे ही नही उतरे बल्कि सीधे जिला अस्पताल पहुंचे। और ब्लड डोनेट कर लड़के की जान बचाई, किरण विधायक को दुआएं दे रही है उनकी माने तो नेता ऐसा ही होना चाहिए।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story