Top

एसआईटी ने अक्षय से 3 साल पुराने मामले में पूछे 42 सवाल!

3 साल पहले पंजाब के फरीदकोट के बरगाड़ी गांव में सिखों के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान के मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी के सामने आज उन्हें पेश होना है। उनसे पूछताछ के लिए इस मामले में एसआईटी ने हाल ही में समन जारी किया था।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 21 Nov 2018 5:30 AM GMT

एसआईटी ने अक्षय से 3 साल पुराने मामले में पूछे 42 सवाल!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चंडीगढ़: बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार एक बार फिर से चर्चा में बने हुए है। अक्षय 3 साल पुराने पंजाब के फरीदकोट के बरगाड़ी गांव में सिखों के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान के मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी के सामने आज चंडीगढ़ में पेश हुए। उनसे पूछताछ के लिए एसआईटी ने हाल ही में समन जारी किया था। यहां एसआईटी ने 2 घंटे में उनसे 42 सवाल पूछे। जिसमें राम रहीम और सुखबीर बादल संग बैठक से लेकर सिखों के धर्मग्रंथ के अपमान समेत कई सारे सवाल शामिल थे। हालांकि अक्षय ने एसआईटी के सामने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज कर दिया।

ये भी पढ़ें...तब्बू ने जब खोला खूबसूरती का राज, खिलाड़ी अक्षय कुमार रह गए हैरान

ये है पूरा मामला

एसआईटी ने 2015 में हुए बेअदबी के विभिन्न मामलों और फायरिंग के बाद कोटकपुरा थाने में दर्ज मामले के संबंध में पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल, शिरोमणि अकाली दल सुप्रीमो सुखबीर बादल और अक्षय कुमार को समन जारी किए गए थे। इस मामले में ऐक्टर अक्षय कुमार पर जस्टिस रणजीत सिंह आयोग की रिपोर्ट में संगीन आरोप लगे थे।

आरोपों के अनुसार अक्षय ने 20 सितंबर 2015 को अपने फ्लैट पर तत्कालीन डेप्युटी सीएम सुखबीर सिंह बादल और डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के बीच बैठक करवाई थी। इसी मीटिंग के दौरान ही डेरा प्रमुख की फिल्म को पंजाब में रिलीज करने पर मुहर लगी।

वहीं दूसरी ओर अक्षय इन आरोपों को नकारते रहे हैं।

ये भी पढ़ें...…ऐसा क्या किया अक्षय कुमार ने जो राजनाथ हो गए उनके मुरीद

अक्षय ने अपनी सफाई में कहा था कि अपने पूरे जीवन में वह कभी भी राम रहीम से नहीं मिले हैं। आपको बता दें कि एसआईटी इस मामले में अभी तक एडीजीपी जितेंदर जैन, आईजी परमराज सिंह उमरानंगल, आईजी अमर सिंह चहल, फिरोजपुर के तत्कालीन डीआईजी एमएस जग्गी, फरीदकोट के तत्कालीन डीसी एसएस मान, एसएसपी वीके स्याल और एसडीएम के अलावा विधायक मनतार बराड़ से पूछताछ कर चुकी है।

ये भी पढ़ें...कमाल: अक्षय कुमार की फिल्म ‘पैडमैन’ से पहले ये पैडवुमेन चला रही कैंप

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story