Top

बागपत में मुस्लिमों ने पेश की एकता की मिसाल, रखा हिंदू भावनाओं का ख्याल

suman

sumanBy suman

Published on 31 March 2017 10:28 AM GMT

बागपत में मुस्लिमों ने पेश की एकता की मिसाल, रखा हिंदू भावनाओं का ख्याल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बागपत: एक तरफ चल रहा है अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मुद्दा है तो दूसरी तरफ नवरात्रि के मौके पर भी हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल भी देखने को मिल रही है। ये पहला मौका है कि जब बागपत में नवरात्रि के पर्व पर मुस्लिमों ने भाईचारे की अनोखी मिसाल पेश की है। यहां के मुस्लिमों ने फैसला किया है कि वो अब नवरात्रि समापन होने पर ही मीट की दुकानें खोलेंगे।

आगे...

बागपत के बड़ौत कस्बे की सभी मीट की दुकाने बंद पड़ी है। नवरात्रि से पहले इन दुकानों पर मीट बेचा जा रहा था, लेकिन जैसे ही नवरात्रि शुरू हुई तो ये दुकानें बंद कर दी गई। इसको लेकर न तो बागपत में कोई फरमान सुनाया गया और न किसी से जोर जबर्दस्ती की गई, बल्कि खुद मुस्लिमों ने ये पहल की है। नवरात्रि को देखते हुए मुस्लिमों ने मीट की दुकानें बंद रखने का फैंसला लिया है। इसको लेकर बकायदा बैठक बुलाई गई थी और उसके बाद मीट की दुकानें बंद करने पर सहमति बन गई। इस बारे में मुस्लिम उलेमाओं और मीट कारोबारियों का कहना है कि आपसी भाईचारा बना रहे इसलिए फैसला लिया गया।

suman

suman

Next Story