Top

38 साल पहले ये थे DON के 10 दुश्मन, जो आज नहीं हैं जिंदा

By

Published on 12 May 2016 1:12 PM GMT

38 साल पहले ये थे DON के 10 दुश्मन, जो आज नहीं हैं जिंदा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Himanshu Bhakuni Himanshu Bhakuni

लखनऊ: साल 1978 में रिलीज हुई फिल्म 'डॉन' के 38 साल पूरे हो चुके हैं। चंद्रा बारोट निर्देशित इस फिल्म में अमिताभ बच्चन ने दोहरी भूमिका निभाई थी। सलीम- जावेद द्वारा लिखित इस फिल्म में जीनत अमान, प्राण, इफ्तिखार, हेलन और ओम शिवपुरी समेत कई कलाकारों ने अहम भूमिका निभाई थी।

इस फिल्म के डायलॉग, गाने और किरदारों का अभिनय आज भी लोगों के दिलों में जिंदा है भले ही इस फिल्म के कुछ कलाकार अब इस दुनिया में नहीं हैं।

बता दें, कि डॉन फिल्म के लिए अमिताभ बच्चन को बेस्ट एक्टर का फिल्म फेयर अवार्ड मिला था साथ ही 'खइके पान बनारस वाला' गाने के लिए किशोर कुमार और 'ये मेरा दिल प्यार का दीवाना' गाने के लिए आशा भोंसले को बेस्ट प्ले बेक सिंगर का अवार्ड भी मिला था।

यह भी पढ़ें ... डॉन फिल्म के 38 साल पूरे होने पर BIG B ने कहा- यादें ताजा हो गईं

don अमिताभ बच्चन और जीनत अमान

डॉन फिल्म के ये डायलॉग्स जिन्हें आप कभी नहीं भुला सकते

डॉन का इंतजार तो 11 मुल्कों की पुलिस कर रही है ... लेकिन डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है।

-ये तुम जानती हो कि ये रिवॉल्वर खाली है ... मैं जानता हूं कि ये रिवॉल्वर खाली है ... लेकिन पुलिस नहीं जानती कि ये रिवॉल्वर खाली है।

-मुझे दो तरह की लडकियां पसंद नहीं आतीं ... एक वो जो मेरे पास आने में बहुत देर लगाएं ... और एक वो जो बहुत जल्दी आ जाएं।

-इंसान ये जान सकता है कि चांद और सूरज में क्या छिपा है ... लेकिन ये कभी नहीं जान सकता कि एक लड़की के दिल में क्या छिपा है।

-डॉन जख्मी है तो क्या ... फिर भी डॉन है।

-इंसान अपनी बुरी आदतें छोड़ सकता है ... लेकिन इंसान की बदनामी हमेशा उसके साथ रहती है।

-नीचे तुम्हारी आंटी बहुत से अंकल्स को लेकर आई हैं।

-मुझे जंगली बिल्लियां पसंद हैं।

-इस पिस्तौल की गोली से तुम्हारे माथे पर एक तीसरी आंख बना दूंगा।

-डॉन हमारे पेशे में दोस्त कम और दुश्मन ज्यादा होते हैं।

-गिरफ्तार होने की आदत मुझे बिलकुल नहीं है।

-कोई गोली न चलाए डॉन मुझे जिंदा चाहिए।

डॉन फिल्म के ये कलाकार जो अब दुनिया से हो चुकें हैं रुखसत

इफ्तिखार खान (1920-1995)

इफ्तिखार खां ने इस फिल्म में डीएसपी डिसिल्वा का रोल ऐडा किया था  इफ्तिखार खान ने इस फिल्म में डीएसपी डिसिल्वा का रोल अदा किया था

जगदीश राज (1928-2013)

जगदीश राज ने डॉन फिल्म में एक पुलिस ऑफिसर का रोल निभाया जगदीश राज ने डॉन फिल्म में एक पुलिस ऑफिसर का रोल निभाया

प्राण कृष्ण सिकंद (1920-2013)

प्राण का इस फिल्म में नाम जसजीत 'जे जे ' था प्राण का इस फिल्म में नाम जसजीत 'जे जे ' था

कमल कपूर (1920-2010)

कमल कपूर डॉन फिल्म में नारंग की भूमिका में नजर आए कमल कपूर डॉन फिल्म में नारंग की भूमिका में नजर आए

पिंचू कपूर (1929-1989)

डइस फिल्म में पिंचू कपूर इंटरपोल के पुलिस ऑफिसर की भूमिका में नजर आए इस फिल्म में पिंचू कपूर इंटरपोल के पुलिस ऑफिसर आर के मलिक की भूमिका में नजर आए

पैदी जयराज (1909-2000)

पैदी जयराज ने इस फिल्म में दयाल का रोल निभाया जो एक जुडो-कराते इंस्ट्रक्टर होता है पैदी जयराज ने इस फिल्म में जुडो-कराटे इंस्ट्रक्टर दयाल का रोल निभाया

मुद्दु बाबू शेट्टी (1938-1982)

एम. बी. शेट्टी ने इस फिल्म में शकाल का किरदार निभाया जिसे दर्शकों ने खूब सराहा एम. बी. शेट्टी ने इस फिल्म में शाकाल का किरदार निभाया जिसे दर्शकों ने खूब सराहा

ओम शिवपुरी (1938-1990)

ओम शिवपुरी का इस फिल्म में नाम वरदान था जो एक फेक पुलिस वाले की भूमिका में था ओम शिवपुरी का इस फिल्म में नाम वरदान था, जो एक फेक पुलिस वाले की भूमिका में था

मैक मोहन (1938-2010)

मैक मोहन का डॉन फिल्म में नाम मैक था मैक मोहन का डॉन फिल्म में नाम मैक था

सत्येन कप्पू (1931-2007)

सतेंद्र कपूर का इस इस फिल्म में नाम एस वर्मा था इस्न्होने एक पुलिस इंस्पेक्टर की भूमिका निभाई सत्येन कप्पू का इस फिल्म में नाम एस वर्मा था। इन्होने एक पुलिस इंस्पेक्टर की भूमिका निभाई

Next Story