Top

बिसाहड़ा केसः जेलर भीमसेन का लखनऊ तबादला, रवीन के परिवार से मिले केंद्रीय मंत्री

By

Published on 7 Oct 2016 5:51 AM GMT

बिसाहड़ा केसः जेलर भीमसेन का लखनऊ तबादला, रवीन के परिवार से मिले केंद्रीय मंत्री
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: साध्वी प्राची के बाद शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे केंद्रीय मंत्री स्वंत्रत प्रभार डॉक्टर महेश शर्मा भी बिसाहड़ा पहुंचे।

उन्होंने रवीन के परिजनों से मुलाकात की और विश्वास जताया कि उनकी मांगों को पूरा किया जाएगा,उन्हें इंसाफ मिलेगा।

इससे पहले बिसाहड़ा गांव में बढ़ते तनाव को देखते हुए शासन ने लुक्सर जेल के जेलर भीमसेन मुकंद का तबादला लखनऊ मुख्यायल कर दिया था। जबकि रवीन को पीटने का आरोप जेल के ही एके पांडे पर लगा है। अभी तक उनका तबादला नहीं किया गया है। ग्रामीणों ने एके पांडे के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर सस्पेंड करने की मांग की है।

विवादों से रहा नाता

लखनऊ जेल में एनआरएचएम घोटाले के आरोपी डा. वाइएस सचान की मौत के दौरान भी मुकुंद ही लखनऊ जेल के जेलर थे। उस दौरान सीबीआई ने उनसे पूछताछ भी की थी। अब रवीन की मौत के बाद एक बार फिर से वह विवादों में हैं। रवीन के परिजन ने जेल में मारपीट और प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। परिजन ने मामले में सीबीआई जांच की मांग भी की है।

यह भी पढ़ें...रवीन की मौत के बाद जेलर मुकुंद फिर चर्चा में, डिप्टी सीएमओ की मौत से सुर्खियों में आए थे

सुप्रीम कोर्ट में डालेंगे याचिका

हत्याकांड के आरोपियों की पैरवी कर रहे संजय राणा ने बताया कि लुक्सर जेल में उनके गांव के 14 लोग सुरक्षित नहीं है। इसके चलते वह उन्हें प्रदेश के बाहर अन्य जेलों में स्थानांतरण के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका डालेंगे। याचिका में रवीन के साथ हुए जुर्म के अलावा जेल में अन्य करतूतों के बारे में भी जानकारी दी जाएगी।

राष्ट्रीय मानवाधिकार ने भेजा था नोटिस

दादरी के बिसाहड़ा गांव में रहने वाले अखलाक की हत्या के आरोप में लुक्सर जेल में बंद आरोपी रवीन की मौत मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार ने उत्तर प्रदेश के डीजीपी और जेल प्रशासन को नोटिस भेजा है। उधर, रवीन के शव का दिल्ली में तीन डॉक्टरों के पैनल ने पोस्टमार्टम किया था। रिपोर्ट तीन दिन के बाद एसडीएम को भेजी जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारण की जानकारी मिल सकेगी।

आगे की स्‍लाइड्स में पढ़ें क्‍या बोले केंद्रीय मंत्री...

बिसाहड़ा पहुंचे महेश शर्मा, रवीन के परिवार से मिलकर दी सांतवा

-साध्वी प्राची के बाद शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे केंद्रीय मंत्री स्वंत्रत प्रभार डॉक्टर महेश शर्मा बिसाहड़ा पहुंचे।

-उन्होंने रविन के परिजनों से मुलाकात की और विश्वास जताया कि उनकी मांगे को पूरा किया जाएगा,उन्हें इंसाफ मिलेगा।

-वह करीब २ मिनट तक परिवार के सदस्यों से मिले।

मंदिर भी गए महेश शर्मा

-मंदिर में गांव की महिलाएं आमरण अनशन कर रही हैं। उनके अनशन का आज पांचवा दिन है।

-ऐसे में महेश शर्मा ने महिलाओं से बातचीत की। उन्होंने जांच को फास्ट ट्रैक पर चलाने की बात भी कहीं।

-साथ ही हर तरह की आर्थिक मदद व गांव के विकास की बात भी कही। इसके बाद गांव में शुरू हुई पंचायत में भी शामिल हुए।

ग्रामीणों न माइक से सुनाई समस्या

पंचायत में ग्रामीणों ने माइक से महेश शर्मा को समस्या सुनाई।

संजय राणा ने बताया कि किस तरह जेल में गांव के बच्चों पर अत्याचार हो रहे है।

यदि जल्द ही उन्हें वहां से शिफ्ट नहीं किया गया तो कहीं उनके साथ भी कोई हादसा न हो जाए।

Next Story