Top

एग्जाम देकर लौट रही छात्राओं को अगवा करने का प्रयास, बोली-किडनैपर नहीं पकड़े जाते, तो छोड़ देती परीक्षा

दो आरोपियों को दबोच लिया। उसके बाद उनकी जमकर खबर ली। पीड़ित छात्राओं के परिजन मौके पर पहुंचे और चार आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

By

Published on 31 March 2017 4:29 AM GMT

एग्जाम देकर लौट रही छात्राओं को अगवा करने का प्रयास, बोली-किडनैपर नहीं पकड़े जाते, तो छोड़ देती परीक्षा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ: एग्जाम देकर लौट रही छात्राओं को मनचलों ने टैम्पो से खींचकर अगवा करने का प्रयास किया। ये नजारा देख स्थानीय लोगों ने हिम्मत दिखाते हुए दो आरोपियों को दबोच लिया। उसके बाद उनकी जमकर खबर ली। पीड़ित छात्राओं के परिजन मौके पर पहुंचे और चार आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

क्या है मामला

-डूंगर गांव की रहने वाली छात्राएं बोर्ड परीक्षा देने के लिए कैथवाडी जनता इंटर कॉलेज गई थीं।

-छात्राओं ने बताया कि चिंदौडी निवासी मनचले कई दिनों से परेशान कर रहे थे।

-अश्लील टिप्पणी कर छेड़छाड़ करते थे। एग्जाम देकर लौटते वक्त छात्राओं के साथ इन युवकों ने छेड़छाड़ की।

यूपी 100 ​को मिलाया फोन

-छात्राओं के मुताबिक विरोध करने पर उन्होंने मारपीट की।

-एक छात्रा को बाइक पर उठाने का प्रयास किया, जिसके बाद छात्राओं ने शोर मचाया।

-इतनी देर में एक छात्रा ने यूपी 100 को फोन कर दिया।

-मौक पर पहुंची पुलिस ने दो मनचलों को हिरासत में लिया जबकि दो फरार हो गए।

-पकड़े गए युवकों की पहचान आदित्य और कपिल निवासी चिंदौडी के रूप में हुई।

-छात्राओं ने थाने में सतेंद्र, आदित्य, प्रिंस और कपिल निवासी चिंदौडी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

क्या है छात्राओं का कहना

-छात्राओं ने बताया कि मनचलों ने उन्हें परीक्षाओं के दौरान परेशान कर दिया था।

-कॉलेज से घर लौटते समय भी डर सताता रहता था।

-छात्राओं का कहना है कि अगर आरोपी पकड़े नहीं जाते, तो उन्होंने एग्जाम छोड़ने का मन बना लिया था।

Next Story