Top

अब चीन वालों के लिए कुत्ता पालना नहीं होगा आसान, वजह है ये नई पाॅलिसी

चीन के शान्दोंग प्रांत के किंगदाओ शहर में एक नई पाॅलिसी लागू की गई है। जिसके तहत लोग केवल एक ही कुत्ते को पाल सकते हैं और उन्हें उसका 400 युआन में रजिस्ट्रेशन कराना होगा।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 12 Jun 2017 1:13 PM GMT

अब चीन वालों के लिए कुत्ता पालना नहीं होगा आसान, वजह है ये नई पाॅलिसी
X
अब चीन वालों के लिए कुत्ता पालना नहीं होगा आसान, वजह है ये नई पाॅलिसी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बीजिंग: चीन के शान्दोंग प्रांत के किंगदाओ शहर में एक नई पाॅलिसी लागू की गई है। जिसके तहत लोग केवल एक ही कुत्ते को पाल सकते हैं और उन्हें उसका 400 युआन में रजिस्ट्रेशन कराना होगा। बता दें, कि चीन ने साल 1979 में बढ़ती जनसंख्या को काबू में करने के लिए एक बच्चे की नीति लागू की थी। जिसे चीन ने 36 साल से चली आ रही 'एक संतान नीति' को अलविदा कह दिया था।

'पीपुल्स डेली' की रिपोर्ट के अनुसार, यह नई पाॅलिसी सोमवार से प्रभावी हो गई है। इसके तहत मैसटिफ्स, जर्मन शेफर्ड्स और सेंट बर्नाड्स सहित 40 बड़ी नस्ल के कुत्तों के पालने पर बैन है।

यह भी पढ़ें ... AMAZING! ये शेर नहीं कुत्ता है, कीमत जानकर पैरों तले खिसक जाएगी जमीन

किंगदाओ सार्वजनिक सुरक्षा ब्यूरो के अधिकारी झाओ जुन ने बताया, "कुत्ता पालन के लिए एक योग्य कुत्ते को रेबीज का टीका लगा होना चाहिए और उसका एक लाइसेंस होना चाहिए। रजिस्ट्रेशन प्राॅसेस के दौरान इसमें एक इलेक्ट्रॉनिक चिप को प्रत्यारोपित किया जाना चाहिए।"

इलेक्ट्रॉनिक चिप को कुत्ते के गर्दन के अंदर की त्वचा में प्रत्यारोपित किया जाता है, जिसमें कुत्ते, उसके मालिक और टीके से संबंधित जानकारी होती है। इस पाॅलिसी के तहत रजिस्ट्रेशन प्राॅसेस गुरुवार से शुरू हो जाएगी।

यह भी पढ़ें ... यह है दुनिया का सबसे किस्मतवाला अमीर कुत्ता, रखता है 8 आईफोन 7

'पीपुल्स डेली' की रिपोर्ट के अनुसार, कुत्तों को शहर में पालने वाले लोगों की संख्या बढ़ने के कारण यह एक गंभीर सामाजिक समस्या बन गए हैं। इस नई पाॅलिसी के तहत मालिकों को अपने कुत्तों का 6 महीने के अंदर रजिस्ट्रेशन कराना होगा।

इसके बाद प्राधिकरण पाॅलिसी का पालन न करने वालों के खिलाफ कार्रवाई, जुर्माना और जानवरों को जब्त किया जा सकता है। इस पाॅलिसी से पहले रजिस्टर्ड हुए कुत्तों पर यह नियम प्रभावी नहीं होगा।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story