Top

पीएम की हुंकार से डरा चीन, सोशल साइट्स से डिलीट किये मोदी के भाषण

चीन की दो सोशल मीडिया साइट से भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण हटा दिए गए। वहीं भारतीय विदेश मंत्रालय के बयान को भी साइट्स से डिलीट कर दिया गया।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 20 Jun 2020 6:06 PM GMT

पीएम की हुंकार से डरा चीन, सोशल साइट्स से डिलीट किये मोदी के भाषण
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

दिल्ली: भारत और चीन के बीच का विवाद अब दोनों देशों के सोशल मीडिया साइट्स को भी प्रभावित करने लगा है। दरअसल, चीन की दो सोशल मीडिया साइट से भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण हटा दिए गए। वहीं भारतीय विदेश मंत्रालय के बयान को भी साइट्स से डिलीट कर दिया गया। हटाए गए भाषण व बयान सीमा विवाद और भारतीय सैनिकों की शहादत से जुड़े हुए थे।

WeChat और Weibo ने पीएम मोदी के भाषण हटाए

LAC सीमा विवाद के बीच चीन के दूतावास के अधिकारियों ने बड़ी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 18 जून को प्रधानमंत्री मोदी द्वारा मंत्रियों को सम्बोधित करते हुए जो भाषण दिया गया था, उसे WeChat और Weibo से डिलीट कर दिया गया है। ये दोनों सोशल साइट्स चीन की है। चीन ने भारतीय विदेश मंत्रालय के बयान को भी साईट से हटा दिया है।

पीएम ने भाषण में सैनिकों की शहादत का किया था जिक्र

बता दें कि पीएम मोदी ने 18 जून को अपने भाषण में सीमा पर 20 भारतीय सैनिकों की शहादत का जिक्र किया था। उन्होंने कहा था कि गलवान में शहीद हुए सैनिकों की शहादत खाली नहीं जाएगी। पीएम ने ये भी कहा था कि भारत शांति चाहता है लेकिन अगर कोई उकसायेगा तो करारा जवाब देना भी आता है।

ये भी पढ़ें- कांवड़ यात्रा पर ग्रहण: शिव भक्तों को लगेगा झटका, सरकार ने लिया बड़ा फैसला

विदेश मंत्रालय के बयान भी डिलीट

पीएम के इस बयान को हटाए जाने को लेकर चीन की ओर से कहा गया कि उन्होंने बयान नहीं हटाया है, बल्कि लिखने वाले ने अपना कमेंट हटाया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव के बयान को भी Sina Weibo अकाउंट से हटा दिया गया है। हालाँकि भारतीय अधिकारियों ने विदेश मंत्रालय के बयान के स्क्रीनशॉट दोबारा पोस्ट कर दिए।

ये भी पढ़ेंः चीन का झूठ: भारत ने बताई चीन के दावे की हकीकत, गलवान पर किया ये खुलासा

गौरतबल है कि चीनी सोशल मीडिया साइट्स और ऐप्स का भारत में काफी इस्तेमाल होता है। इसमें Weibo चीन का ट्विटर जैसा है, जिसपर भारत के कई बड़ी हस्तियों के अकाउंट हैं। इसमें पीएम मोदी भी शामिल हैं। भारत में WeChat का भी अच्छा ख़ासा इस्तेमाल होता है। Weibo और WeChat दोनों पर भारतीय दूतावास के हजारों फॉलोअर हैं।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story