Top

तलाक पीड़ित महिलाओं ने तिरंगा लेकर की आतिशबाजी, फैसले का किया स्वागत

By

Published on 22 Aug 2017 9:43 AM GMT

तलाक पीड़ित महिलाओं ने तिरंगा लेकर की आतिशबाजी, फैसले का किया स्वागत
X
तलाक पीड़ित महिलाओं ने तिरंगा लेकर की आतिशबाजी, फैसले का किया स्वागत
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: सुप्रीम कोर्ट के तीन तलाक फैसले के बाद मुस्लिम महिलाओं में ख़ुशी की लहर दौड़ गई है। कानपुर में मुस्लिम महिलाएं अपने हाथो में तिरंगा लेकर अपनी ख़ुशी का इजहार कर रही हैं। तलाक पीड़ित मुस्लिम महिलाओं ने आतिशबाजी करके लोगों का मुंह मीठा कराया और सप्रीम कोर्ट के फैसले को सही बताया।

तीन तलाक के कहर से सालों से अपनी उजाड़ दुनिया में आंसू बहा रही मुस्लिम महिलाओं को आज सुप्रीम कोर्ट से वह ख़ुशी मिल गई, जिसकी वह सालों से खुदा से दुआ मांग रही थी। आज तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक लगते ही तीन तलाक महिलाएं ख़ुशी से झूम उठीं। कानपुर में तीन तलाक पाई फरजाना ने फैसला आते ही आतिशबाजी करके अपनी खुशियां मनाईं। फरजाना को नौ साल पहले उसके पति साकिर ने तलाक दे दिया था। फरजाना का कहना है कि आज हमारे साथ न्याय हुआ है।

फरजाना ने बताया कि मेरे पति ने दूसरी महिला के लिए मुझे एक झटके में तीन तलाक दे दिया था। तब से मैं तीन तलाक के दंश को झेल रही हूं, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से आने वाली पीढ़ी को यह दर्द बर्दाश्त नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा मोदी सरकार सांसद में तीन तलाक पर सख्त कानून बनाए।

Next Story