Top

SGPGI: मरीजों को नहीं लगाने पड़ेंगे बैंकों के चक्कर, AC का लुफ्त उठाएंगे तीमारदार

By

Published on 2 Sep 2017 6:19 AM GMT

SGPGI: मरीजों को नहीं लगाने पड़ेंगे बैंकों के चक्कर, AC का लुफ्त उठाएंगे तीमारदार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: एसजीपीजीआई में अब तीमारदारों को पैसा निकालने के लिए बार-बार एटीएम के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ओर से परिसर में ही ई-लॉबी बनाई गई है, जहां मरीज व उनके तीमारदार पैसे निकाल सकेंगे। इसके अलावा पैसे भी जमा करने की सुविधा हो गई है।

-ई-लॉबी अस्पताल प्रवेश द्वार के सामने पीएमएसएसवाई भवन तथा नए ओपीडी के बीच में है।

-इसके अलावा तीमारदारों को बैठने के लिए एसी विश्राम गृह बनाया गया है, जिसकी क्षमता 100 लोगों की है।

-तकनीकी एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने (शुक्रवार) इसकी शुरुआत कर दी है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: सिविल अस्पताल में पर्चा बनवाने के लिए लगती हैं लंबी लाइनें, प्रशासन नहीं दे रहा ध्यान

मरीजों व तीमारदारों को मिलेगी राहत

-ई-लॉबी खुलने से दूर-दराज से आने वाले मरीजों व उनके परिजनों को काफी राहत मिलेगी।

-अक्सर ऐसा होता है कि इलाज के बीच में पैसे खत्म होने के चलते एटीएम के लिए एसजीपीजीआई के गेट का चक्कर लगाना पड़ता है।

-इसके बाद वहां जाने पर काफी भीड़ भी रहती है।

-इसके चलते दवाओं को मुहैया कराने में देरी हो जाती है।

-अब परिसर में ई-लॉबी खुल जाने से मरीजों व उनके तीमानदारों को सहूलियत मिलेगी।

यह भी पढ़ें: लोहिया अस्पताल में जल्द मिलेगी टेली-डर्मिटोलॉजी की सुविधा

एसी विश्राम गृह में होगी सारी सुविधाएं

-नए आधुनिक एसी विश्राम गृह में करीब 100 लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है।

-इसमें साफ शौचालय से लेकर बेहतर कैंटीन की व्यवस्था शुरू हो गई है।

-एक ही विश्राम गृह में मरीजों को सारी सुविधाएं देने की कोशिश की गई है।

Next Story