Top

ये शादी कुछ कहती है! फेरों में पौधे, गिफ्ट में पौधे...सात वचनों में भी पौधे

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 5 Jun 2017 2:20 PM GMT

ये शादी कुछ कहती है! फेरों में पौधे, गिफ्ट में पौधे...सात वचनों में भी पौधे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इलाहाबाद : दुनिया भर में आज पर्यावरण दिवस मनाया जा रहा है, इलाहाबाद में आज पर्यावरण दिवस के मौके पर एक युवक और युवती ने हरित विवाह कर पौधों की रक्षा का संकल्प लिया। शहर के ट्रांसपोर्ट नगर के एक गेस्ट हॉउस में आयोजित शादी में शामिल होने आये लोगो ने भी वर वधु को हरे पेड़ पौधे देकर उन्हें अपना आशीर्वाद दिया। इस मौके पर वरवधू ने भी हरे पौधे हाथ में लेकर अपने सात फेरे पूरे किये।

ये भी देखें : एक संन्यासी की अनोखी पहल, विश्व शांति के लिए जलती आग के बीच तपस्या

5 जून यानि दुनिया भर में उस पर्यावरण की चिंता को जाहिर करने का दिन, जिसके बिना हम मानव जीवन की कल्पना तक नहीं कर सकते। संगम नगरी में भी आज के दिन को ख़ास तरीके से मनाया गया। जिसकी मिसाल बनी शादी, जिसमे वर वधु को सात फेरों के बाद सात पौधे उपहार के तौर पर दिए गए, और जिन्हें लेकर दुल्हा विश्वजीत और दुल्हन रूपा ने पूरी जिंदगी इन पौधों की हिफाजत करने का संकल्प लिया।

शहर के लागुन पैलस में आयोजित शादी समारोह में विश्वजीत की बरात पूरी धूम धाम से आई। बरात में बैंड बाजे बजे पर जमकर डांस कर अपनी खुशी का इजहार भी किया। इस गरीब वर वधु को मदद करने के लिए आदर्श जनकल्याण समिति सामने आई, और उसकी वजह से स्थानीय लोगो ने भी अपनी तरफ से जरुरी सामान दिया। शादी में वर माला के आयोजन के बाद मेहमानों ने हरे पौधे देकर वर और वधु को इस हरित शादी की मुबारकबाद दी। दोनों ने शादी के बाद अपने परिवार की तरह ही इन पौधों की ताउम्र रक्षा करने की शपथ ली।

शादी में शामिल हुए लोगों का कहना है, कि आज पर्यावरण दिवस के अवसर पर ये अनोखी शादी एक संदेश दे रही है। शहरों में घटते पेड़ों की संख्या और दिन पर दिन बढ़ती गर्मी से लोग बेहाल है। आज शहर का तापमान 48 डिग्री सेल्सियस पहुँच गया है, उनका कहना है शादी में शामिल हुए मेहमानों को भी पेड़ देकर पर्यावरण के प्रति अलख जगाने का प्रयास किया गया है,, और उनसे ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने की अपील की गई।

देखें तस्वीरें :

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story