Top

पूर्वांचल की बाटी बनी लखनवी घाटी, खाने पर मिलेगा तीन स्‍टेट का TASTE

Admin

AdminBy Admin

Published on 27 Feb 2016 4:36 PM GMT

पूर्वांचल की बाटी बनी लखनवी घाटी, खाने पर मिलेगा तीन स्‍टेट का TASTE
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Suyash Mishra Suyash Mishra

लखनऊ: नवाबों के शहर में अवधी व्यंजन जगप्रसिद्ध हैं। खासकर यहां का स्ट्रीट फूड बहुत ही लोकप्रिय रहा है। ये कम दामों में आपको चटपटे स्वाद के साथ ही वेराइटी भी देता है। अगर आप लखनऊ की सैर करने निकले हैं और आपका मन लाजवाब स्वादिष्ट व्यंजन चखने के लिए मचल रहा है तो यहां आपकी इच्छाओं की तृप्ति हो जाएगी।

हम बात कर रहे हैं डालीबाग स्थित सिद्धनाथ की दुकान की। अगर आप लखनऊ पधारे और इनकी मशहूर घाटी नहीं चखी तो यकीनन आप यहां के लाजवाब स्वाद से महरूम रह जाएंगे। इसे चखने के बाद आपको असली स्वाद मिलेगा। डॉलीबाग में स्थित सिद्धनाथ की 'घाटी' बहुत प्रसिद्ध है।

ghati.jpg2.

पूरब-पश्चिम का अनूठा संगम

घाटी में पूरब-पश्चिम का अनूठा संगम है। पूर्वांचल-बिहार की बाटी और राजस्थान की प्याज वाली कचौड़ी का स्वाद आपको घाटी में​ मिलेगा। सिद्धनाथ की घाटी का दायरा सीमित नहीं है बल्कि राजस्थान, गुजरात मुंबई तक लोग इसे मंगवाते हैं। अमौसी एयरपोर्ट हो या​ फिर चारबाग रेलवे स्टेशन इसके तलबदार हर जगह हैं।

फास्ट फूड की तरह यूज हो रही घाटी

सिद्धनाथ की घाटी वैसे तो हर उम्र के लोग खाते हैं लेकिन युवाओं में इसका खास क्रेज है। ये फास्ट फूड की तरह पसंद की जा रही है। इसने कई व्यंजनों को कड़ी टक्कर दे रखी है। पेटीज, समोसा व कचौड़ी की जगह ज्यादातर लोग घाटी का स्वाद ले रहे हैं।

चटनी से बढ़ जाता है जायका

घाटी के साथ यहां अमरूद, आम, हरी धनिया व​ मिर्च की खास चटनी परोसी जाती है। इस चटनी से घाटी का स्वाद दोगुना हो जाता है। सिद्धनाथ बताते हैं कि कई ऐसे ग्राहक हैं जो हर रोज नाश्ते में सिर्फ घाटी का ही सेवन करते हैं।

सुबह से रात तक चलता है सिलसिला

यह दुकान वैसे तो बहुत बड़ी नही है लेकिन यहां ग्राहकों का हुजूम जरूर रहता है। सिद्धनाथ बताते हैं कि वह सुबह से ही अपने भाईयों के साथ काम में जुट जाते हैं। यह सिलसिला रात 11 बजे तक चलता है। आप कभी भी इनकी दुकान के सामने ग्राहकों का हुजूम देख सकते हैं।

[su_slider source="media: 11703,11704,11705,11706,11707,11708,11709,11710" width="620" height="440" title="no" pages="no" mousewheel="no" autoplay="0" speed="0"] [/su_slider]

Admin

Admin

Next Story