पानी पर योग करते हैं हरीश चतुर्वेदी, जलयोग से पूरे साल मिलती है एनर्जी

Published by shalini Published: June 21, 2016 | 3:09 pm
Modified: June 21, 2016 | 3:44 pm

योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी

[nextpage title=”next” ]

योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी
योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी

आगरा: पानी पर करतब दिखाना तो आम बात हो चुकी है। लेकिन योग करते बहुत ही कम लोगों को सुना होगा। आगरा का एक शख्स पानी के ऊपर 50 से अधिक योगासन करता है। उनकी योग की इस विद्या को कुंभ के दौरान डॉक्टर भी मान चुके हैं।
योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी आगरा के लिए कोई नया नाम नहीं है।

आगे की स्लाइड में पढ़िए कैसे योग से बढ़ जाती है उनके खून में ऑक्सीजन

[/nextpage]

[nextpage title=”next” ]

योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी

 

भारत में इकलौते हरीश ही ऐसे व्यक्ति हैं जो पानी के ऊपर योग करते हैं। करीब 30 साल से हरीश पानी के ऊपर योग कर रहे हैं। हरीश पेशे से वकील हैं और वर्तमान में खंदारी विश्वविद्यालय और हिन्दुस्तान इंजीनियरिंग कालेज में योग शिक्षक हैं। हरीश के अनुसार पानी पर योग का इतना फायदा है कि अगर कोई मात्र 15 दिन नियम से जलयोग करे तो पूरे साल एनर्जी मिलती रहेगी। जलयोग करने वाले व्यक्ति के शरीर का तापमान सामान्य रहता है। उनके खून में ऑक्सीजन की मात्रा 99% हो जाती है। प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है।

हरीश अब तक बंगाल की हुगली नदी, गंगा नदी, यमुना, गोमती, चम्बल, ब्रह्मपुत्र जैसी नदियों में जलयोग कर चुके हैं। कुंभ के दौरान इलाहाबाद में हरीश को बुलाया गया था जहां डाक्टरों की टीम गठित हुई थी। योग चेकअप के बाद उन्हें मेले की तरफ से सर्टिफिकेट दिया गया और उनकी इस विद्या के फायदे पर डॉक्टरी मुहर लगी।

आगे की स्लाइड में पढ़िए किसने किया हरीश को जलयोग के लिए प्रेरित

[/nextpage]

[nextpage title=”next” ]

योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी

हरीश के जलयोग की है फिल्‍मी कहानी
करने के पीछे फ़िल्मी कहानी है। 30 साल पहले पैतृक गांव बटेश्वर में रहने के दौरान एक साधू ददुआ बाबा को देखा जिनके बारे में यह कहानी थी कि वो यमुना पानी पर चल कर इस पार से उस पार जाते हैं। उनसे प्रेरित हुए ही थे कि कासगंज के कसेला घाट पर उन्होंने गुजराती बाबा नामक साधू को पानी पर भजन करते देखा तो इच्छा बलवती हो गई और वो पानी पर योग करने लगे।

आगे की स्लाइड में पढ़िए कितने घंटे कर सकते हैं हरीश पानी में योग

[/nextpage]

[nextpage title=”next” ]

योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी
पानी पर योग करने से भले ही हरीश पानी पर चल नहीं पाए पर अब वो लगातार 8 घंटे तक पानी के ऊपर रहकर योग कर सकते हैं। इसको गिनीज में शामिल करने के लिए हरीश प्रयासरत हैं। हरीश के अनुसार उनके अलावा कोई भी जलयोग नहीं करता है। कुछ लोग पानी के अंदर योग भले ही करते हैं लेकिन वो योग की श्रेणी में नहीं आता है। पानी के अंदर योग में सांस नहीं ली जा सकती जबकि योग में सांस लेना जरूरी है। जलयोग के दौरान वो आराम से बात तक कर सकते हैं।

आगे की स्लाइड में पढ़िए कौन कौन से आसन करते हैं हरीश पानी में

[/nextpage]

[nextpage title=”next” ]

योगाचार्य हरीश चतुर्वेदी

हरीश पानी के ऊपर 50 से अधिक आसन करते है जिनमें से पद्मासन, सूर्यनमस्कार , नासास्पर्शन, पार्वती आसन, उर्दपथ वज्रासनए मत्स्यासन विस्तृत हलासन आदि मुख्य हैं। हरीश प्रधानमन्त्री मोदी के बहुत बड़े फैन हैं। उनके अनुसार योग में खासियत है कि वो दूसरे योगी के विचारो को जान सकता है। मोदी का आचरण ही योगी का है। इसीलिए वो योग को समझते हैं और आज देश को विश्व में एक ख़ास मुकाम पर बिना कोई दाग के ले आए हैं। योग गुरु रामदेव को हरीश नही मानते। उनके अनुसार पहले वो योगी थे पर अब वो बिजनेसमैन हैं। विश्व योग दिवस पर हरीश हिन्दुस्तान कालेज में सुबह गोष्ठी करेंगे और शाम लो जलयोग करेंगे।

[/nextpage]