Top

FDA की जांच में हुआ खुलासा, 50 % मिठाइयों में हार्मफुल केमिकल्स और कलर की मिलवाट , यूं करे पहचान

देश भर में होली की तैयारी जोरों पर है। बाजारों में मिठाईयों की दुकाने सज चुकी है। खरीददारी के लिए ग्राहक दुकानों पर पहुंच रहे है। लेकिन मिलावटखोरों के खिलाफ एफडीए विभाग ने भी अभियान चला दिया है। अब तक 344 सैंपलों की जांच में 160 सैंपल फेल साबित हुए है।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 8 March 2017 5:24 AM GMT

FDA की जांच में हुआ खुलासा, 50 % मिठाइयों में हार्मफुल केमिकल्स और कलर की मिलवाट , यूं करे पहचान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ: देश भर में होली की तैयारी जोरों पर है। बाजारों में मिठाईयों की दुकाने सज चुकी है। खरीददारी के लिए ग्राहक दुकानों पर पहुंच रहे है। लेकिन मिलावटखोरों के खिलाफ एफडीए विभाग ने भी अभियान चला दिया है। अब तक 344 सैंपलों की जांच में 160 सैंपल फेल साबित हुए है।

50% हो रही मिलावट

-50 फीसदी मिठाईंयों और अन्य खाद्य पदार्थो में मिलावट हो रही है।

-बताया जा रहा है कि यह मिलावट शरीर के लिए बहुत हानिकारक है।

-अप्रैल 2016 से लेकर जनवरी 2017 तक एफडीए ने करीब 512 सैंपल भरे थे।

-चिंताजनक बात ये है कि इनमें से 30 सैंपलों में केमिकल की पुष्टि हुई है।

-जबकि दस सैंपलों में नियमों का उल्लघंन पाया गया है।

-पनीर के करीब 60% से ज्यादा सैंपल फेल हुए है तो वही कलयुक्त मिठाईयों में केमिकल की पुष्टि हुई है।

-एफडीए की रिपोर्ट में पनीर के साथ खोया, दूध से बनी मिठाईयों व सामान्य मिठाईयों में सबसे अधिक मिलावट हो रही है।

अधिकारियों के मुताबिक-

-अभिहित अधिकारी रणधीर सिंह का कहना है लोगों को कलरयुक्त मिठाईयों से परहेज करना चाहिए।

-10 महीने के रिपोर्ट के अनुसार सबसे अधिक सैंपल कलरयुक्त मिठाइयों के फेल हुए है।

-मिल्क प्रोडक्ट से बनी मिठाईयों के 10, सामान्य मिठाईयों के 4 और मसाले के 2 सैंपल शामिल है।

ऐसे करे मिलावट की पहचान

-मिठाई के छोटे से टुकडे को दो उंगलियों के बीच रगडे।

-अगर उंगलियों पर मिठाई का कलर छूटता है तो कलर हानिकारक है।

-मिठाई को पानी के साथ गरम करें और छानकर उसमें एचसीएल की कुछ बूंदे मिलाएं। रंग बदलते ही मिलावट का पता लग जाएगा।

दूध

-दूध की मिलावट का पता करने के लिए एक टूयूब ले।

-ध्यान रहे जितनी मात्रा में दूध लिया है उतनी ही मात्रा में हाइड्रो क्लोरिक एसिड एचसीएल लेकर टयूब गर्म कर ले।

-अगर रंग लाल होता है तो उसमे वनस्पति की मिलावट है।

-चखने में कड़वाहट आती है तो यूरिया और डिटर्जेंट की मिलावट हो सकती है।

-मेडिकल स्टोर से आयोडिन टिंचर ले ले, जिसकी कुछ बूंद खोया पर डाल दे।

-खोया अगर काला, बैंगनी कलर हो जाता है तो मिलावट हो रही है।

10 महीने में इतने सैंपल हुए फेल

प्रोडक्ट सैंपल रिपोर्ट प्राप्त फेल

दूध 111 77 30

खोया 15 15 9

पनीर 15 14 10

घी 11 09 01

मिल्क स्वीट 79 36 20

मस्टर्ड आयल 08 08 04

जनरल मिठाई 35 19 10

मसाला 79 17 06

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story