Top

खुल गई प्रदेश सरकार की पोल,प्रशासन की मिलीभगत से अब भी होता है अवैध खनन

शासन और प्रशासन से गांठ बांधकर खनन माफिया बड़े ही शान से अवैध खनन को अंजाम दे रहे हैं। सबसे शर्मनाक बात तो ये है की इनसब की खबर होने के बावजूद प्रशासन हाथों पर हाथ रख कर बैठी है।प्रदेश सरकार हमेशा से खुद को ईमानदार और एंटी-करप्ट बताती आ रही है मगर अवैध खनन की ये तस्वीरें सरकार की पोल खोलते नज़र आ रही है।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 15 Nov 2016 12:18 PM GMT

खुल गई प्रदेश सरकार की पोल,प्रशासन की मिलीभगत से अब भी होता है अवैध खनन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

untitled-2

शामली : प्रदेश के अलग अलग जिलों में हो रहे अवैध खनन रुकने का नाम नहीं ले रहे।शामली के झिंझाना थाना क्षेत्र के मंगरौला गांव में अवैध रेत खनन का कारोबार अब भी तेज़ी से चल रहा है।शासन और प्रशासन से गांठ बांधकर खनन माफिया बड़े ही शान से अवैध खनन को अंजाम दे रहे हैं। सबसे शर्मनाक बात तो ये है की इनसब की खबर होने के बावजूद प्रशासन हाथों पर हाथ रख कर बैठी है।प्रदेश सरकार हमेशा से खुद को ईमानदार और एंटी-करप्ट बताती आ रही है मगर अवैध खनन की ये तस्वीरें सरकार की पोल खोलते नज़र आ रही है।

कैमरे के सामने नहीं आ रहे पुलिस अधिकारी

शामली के सड़कों पर अवैध खनन वाहन आसानी से दौड़ते है। खनन माफिया जेसीबी मशीनों से यमुना का सीना चीर रहे है। ये सब पुलिस के सामने होता है मगर कोई इस को रोकने वाला नहीं। और जब इनसब पर पुलिस से सवाल पूछो तो वो कैमरे के सामने तक नहीं आती।कोई भी अधिकारी कैमरे के आगे कुछ भी बोलने से कतराते है। वो कहते है न ..चोर की दाढ़ी में तिनका।

आगे की साइड्स में देखें कुछ और फोटोज ...

untitled-1

untitled-3

आगे की स्लाइड में देखें वीडियो...

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story