भारत की सबसे अमीर मस्जिदें: इनकी संपत्ति जान दंग रह जाएंगे आप

वैसे तो मंदिरों के संपत्तियों के बारे में तो लोग जानते ही होंगे, क्योंकि इसकी रिपोर्ट भी आती रहती है। तो आज हम आपको देश के ऐसे तीन मस्जिद के बारे में जिनके पास अकूत संपत्ति है। मुसलमानों की इबादत गाह को मस्जिद कहते हैं। यहां हम आपको इतिहास की सबसे अमीर मस्जिदों के बारे में बताने जा रहे हैं

नई दिल्ली: भारत एक ऐसा देश है जहां हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, जैन, बौद्ध सभी धर्मों के लोग रहते हैं। जहां देश में हिंदू आबादी और मंदिरों की संख्या सबसे अधिक है तो वहीं दूसरे नंबर पर मस्जिदों की संख्या भी देश में कम नहीं है। इनमें कुछ मंदिर मस्जिद ऐसे भी हैं जहां की संपत्ति जान आप हैरान हो जाएंगे।

वैसे तो मंदिरों के संपत्तियों के बारे में तो लोग जानते ही होंगे, क्योंकि इसकी रिपोर्ट भी आती रहती है। तो आज हम आपको देश के ऐसे तीन मस्जिद के बारे में जिनके पास अकूत संपत्ति है। मुसलमानों की इबादत गाह को मस्जिद कहते हैं। यहां हम आपको इतिहास की सबसे अमीर मस्जिदों के बारे में बताने जा रहे हैं

1. हाजी अली दरगाह सैयद 

यह मस्जिद मुंबई के वर्ली तट के किनारे मौजूद है, यह भारत की कैसी मस्जिद है जहां हिंदू और मुस्लिम दोनों धर्म के लोग आते हैं और यहां दुनिया की सबसे अमीर मस्जिद मानी जाती है। कहा जाता है कि यहां 1 महीने में लगभग 5 से 6 करोड रुपए तक जमा हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें—एक झटके में बनी 20 हजार गर्लफ्रेंड, अब एक जाएगी चांद पर

इसे सय्यद पीर हाजी अली शाह बुखारी की स्मृति में सन 1431 में बनाया गया था। यह मुंबई का महत्वपूर्ण धार्मिक एवं पर्यटन स्थल भी है। बता दें कि हाजी अली ट्रस्ट के अनुसार हाजी अली उज़्बेकिस्तान के बुखारा प्रान्त से सारी दुनिया का भ्रमण करते हुए भारत पहुँचे थे।

2. ख्वाजा मोइनुद्दीन

यह मस्जिद राजस्थान के अजमेर में स्थित है,यह भारत की दूसरी सबसे अमीर मस्जिद मानी जाती है और इस मस्जिद में 1 महीने में लगभग 3 करोड रुपए तक जमा हो जाते हैं।

यह माना जाता है कि मोइनुद्दीन चिश्ती का जन्म 536 हिज़री संवत् अर्थात 1141 ई॰ पूर्व पर्शिया के सिस्तान क्षेत्र में हुआ। इन को हज़रत ख्वाजा गरीब नवाज़ के नाम से भी पुकारा जाता है। ग़रीब नवाज़ इन को लोगों से दिया गया नाम है।

3. मोती मस्जिद

मोती मस्जिद मुगल बादशाह औरंगजेब द्वारा बनवाई गई मस्जिद है। यह दिल्ली के लाल किले में स्थित है।

यह भारत की तीसरी सबसे अमीर मस्जिद है जिसमें स्त्रियां तक जा सकती हैं। इस मस्जिद में 1 महीने में लगभग 1 से 2 करोड रुपए तक जमा हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें—इंदिरा गांधी मिलने जाती थीं करीम लाला से, इस डॉन के बेटे ने बताई सच्चाई

हमें उम्मीद है आपको यह जानकारी जरुर पसंद आएगी और इस पोस्ट को आप अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ जरुर शेयर करें।