Top

असम के उदालगुरी में कामाख्या-डेकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस में धमाका, 11 लोग घायल

असम के उदलगुड़ी जिले में शनिवार रात को  विश्व प्रसिद्ध सिद्ध शक्ति पीठ कामाख्या देवी से चलने वाली कामाख्या-डेकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस में हुए बम धमाके में 3 लोग जख्मी हो गए।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 2 Dec 2018 4:40 AM GMT

असम के उदालगुरी में कामाख्या-डेकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस में धमाका, 11 लोग घायल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गुवाहाटी: असम के उदलगुड़ी जिले में शनिवार रात को विश्व प्रसिद्ध सिद्ध शक्ति पीठ कामाख्या देवी से चलने वाली कामाख्या-डेकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस में हुए बम धमाके में 3 लोग जख्मी हो गए। सूत्रों के मुताबिक घायलों की संख्या करीब 11 हो सकती लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो सकी।

नॉर्थईस्ट फ्रंटियर रेलवे के प्रवक्ता के मुताबिक कामाख्या से चलकर शनिवार रात को करीब 7.04 बजे हईसिंघा रेलवे स्टेशन पहुंची कामाख्या-डेकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस की एक बोगी में धमाका हो गया।

गुवाहाटी से करीब 95 किलोमीटर दूर स्थित स्टेशन पर ट्रेन की बोगी में धमाके से 3 लोग घायल हो गए। घायलों को हईसिंघा सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां एक की हालत गंभीर है।

रेलवे और पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। असम पुलिस के डीजीपी विशेष ब्रांच पल्लव भट्टाचार्य का कहना है कि धमाके के कारणों की अभी तक पुष्टि नहीं हो सकी है। जांच जारी है। माना जा रहा है कि हैंड ग्रेनेड या रिमोट आधारित आईईडी के जरिए धमाके को अंजाम दिया गया है।

हालांकि सूत्रों का कहना है कि इस धमाके को 1 नवंबर को तिनसुकिया में संदिग्ध उल्फा (आई) आतंकियों द्वारा बंगाली बोलने वाले 5 लोगों की हत्या से जोड़कर देखा जा रहा है। इस घटना से पहले आतंकियों ने 22 नवंबर को भी सिबसागार जिले में ग्रेनेड से हमला किया था, जिसमें 2 लोग मारे गए थे और कई अन्य घायल हुए थे।

पूर्वोत्तर फ्रंटियर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी नृपेन भट्टाचार्य ने ट्रेन में धमाके को लेकर कहा कि यह अभी तक निश्चित नहीं हो पाया है कि धमाके का कारण बम था या ट्रेन में शॉर्ट सर्किट की वजह से हादसा हुआ। उन्होंने कहा कि धमाके में कोई मृत्यु नहीं हुई है।

ये भी पढ़ें...ट्रेन में घुसकर गार्ड को मारी दो गोलियां, सामने चौकी की पुलिस बनी रही मूक बधिर

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story