Top

खाकी तेरे रूप अनेक: नवजात बच्ची को गोद लेकर महिला पुलिस ने दी ममता के आंचल की छांव

By

Published on 12 April 2017 3:48 AM GMT

खाकी तेरे रूप अनेक: नवजात बच्ची को गोद लेकर महिला पुलिस ने दी ममता के आंचल की छांव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

hardoi police

हरदोई: एक मां ने ममता के रिश्ते को कलंकित किया, तो दूसरी ओर खाकी में छुपी एक ममता ने लावारिस नवजात बच्ची को अपने आंचल की छांव देकर उसे गले से लगा लिया। 9 माह तक अपने पेट में रखने के बाद एक मां ने अपने जिगर के टुकड़े को खुद से अलग क्यों किया होगा? ये तो पता नहीं।

इतना जरूर पता है कि नवजात बच्ची को खुद से दूर करने से बड़ा कोई पाप नहीं है। पर किसी नवजात को जीवन देने से बड़ा कोई और पुण्य भी नहीं होगा। जिसे हरदोई में महिला थाने की सब इंस्पेक्टर कमलेश ने कर दिखाया है।

आगे की स्लाइड में जानिए मासूम नवजात की कहानी

दरअसल कोतवाली सिटी के इलाके में स्थित रामजानकी मंदिर में दो दिन की नवजात बच्ची के मिलने से सनसनी मच गई। इस बात की जानकारी आसपास के लोगों को हुई, तो मौके पर भारी भीड़ जुट गई। तमाशबीन तो बहुत थे, पर नवजात को जीवन देने वाले कोई नहीं दिखे। ऐसे में महिला थानाध्यक्ष कनकलता दुबे और एसआई कमलेश गौतम ने बच्ची को जिंदगी देने का फैसला लिया और नवजात को अपनी ममता की छांव दी।

आगे की स्लाइड में देखिए महिला पुलिस के इस अनोखे रूप की दिल को छूने वाली तस्वीरें

नवजात की देखभाल के लिए पूरा महिला थाने का स्टाफ जी जान से जुटा हुआ है। बच्ची को महिला थानाध्यक्ष कनकलता दुबे ने जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया है।

आगे की स्लाइड में देखिए महिला पुलिस के इस अनोखे रूप की दिल को छूने वाली तस्वीरें

Next Story