Top

पुलिस ने पकड़ी महिला आतंकी, तो चिल्लाने लगी 'मेरे शरीर को मत छुओ, मुझे मत छुओ'

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 April 2017 3:44 PM GMT

पुलिस ने पकड़ी महिला आतंकी, तो चिल्लाने लगी मेरे शरीर को मत छुओ, मुझे मत छुओ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लंदन : ब्रिटेन की राजधानी लंदन में पुलिस ने एक आतंकी साजिश को नाकाम करने में सफलता हासिल की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक बुधवार को आतंकी होने की खबर मिलने के बाद पुलिस ने एक मकान में छापेमारी की। इसके बाद गोलीबारी में एक 20 वर्षीय मुस्लिम युवती बुरी तरह घायल हो गई।

ये भी देखें :सावधान ! गर्मी में एनर्जी ड्रिंक पीना पड़ सकता है महंगा, जानें क्या है नुक्सान

बताया जा रहा है, कि पुलिस को इस युवती की काफी दिनों से तलाश थी। चश्मदीदों के मुताबिक पुलिस ने मकान से खून सने बुर्के में इस युवती को निकाला और अस्पताल ले गए।

इसके बाद जो हुआ वो काफी हैरतअंगेज था, घायल युवती का इलाज करने के लिए जब डॉक्टरों ने उसके बुर्के को निकालने का प्रयास किया तो वो चिल्लाने लगी की मेरे शरीर को मत छुओ, मुझे मत छुओ।

चश्मदीदों के मुताबिक इस युवती के हाथ और पेट से खून बह रहा था। लेकिन वो अपना इलाज नहीं करने दे रही थी, अभी उसकी हालत गंभीर बनी हुई है इस लिए उसे हिरासत में नहीं लिया गया है।

इस युवती के साथ 6 अन्य को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक सभी को आतंकी गतिविधियों में लिप्त होने और आतंकी गतिविधियों के लिए युवाओं को उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story