Top

जानिए ! नवाबों के बाद लखनऊ को सिर्फ अटल जी ने संवारा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 Aug 2018 2:39 PM GMT

जानिए ! नवाबों के बाद लखनऊ को सिर्फ अटल जी ने संवारा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 94 वर्ष की उम्र में गुरुवार की शाम निधन हो गया। अटल वर्ष 1991 से 2004 तक लगातार लखनऊ से सांसद चुने गए। उनका उत्तर प्रदेश की राजधानी से गहरा नाता रहा। उनको जानने वाले बताते हैं कि वह एक कुशल राजनेता, कवि, प्रखर वक्ता और पत्रकार के रूप में राजनेताओं और जनता के बीच लोकप्रिय रहे और उन्होंने हमेशा लखनऊवासियों के दिल पर राज किया।

सांसद और प्रधानमंत्री रहते उन्होंने लखनऊ को कई विकास की सौगातें दी। आज अगर लखनऊ का कायाकल्प हुआ है तो उसका श्रेय अटल जी को ही जाता है। उन्होंने यहां कई विकास परियोजनाओं की सौगात दी।

शहीद पथ, साइंटिफिक सेंटर, लखनऊ-कानपुर हाईवे, अशोक मार्ग पर रास्ते का चौड़ीकरण, स्ट्रीट लाइट, गोमतीनगर का नया रेलवे स्टेशन, कल्याण मंडप, भीड़भाड़ वाले निरालागर रेलवे क्रॉसिंग पर फ्लाईओवर का निर्माण, लखनऊ रिंग रोड बाइपास, लखनऊ एयरपोर्ट रनवे का विस्तारीकरण, अलीनगर में आंबे योजना के तहत कमजोर वर्ग के लिए 14, 350 मकानों का निर्माण, गोमतीनगर में क्षेत्रीय पासपोर्ट ऑफिस का निर्माण शामिल है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story