Top

करुणानिधि 21 बातें: LTTE चीफ से थी जिगरी यारी, हिंदी का 'अखंड दुश्मन'  

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 7 Aug 2018 1:50 PM GMT

करुणानिधि 21 बातें: LTTE चीफ से थी जिगरी यारी, हिंदी का अखंड दुश्मन  
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : तमिलनाडु के पूर्व सीएम और द्रविड़ मुन्नेत्र कज़गम (डीएमके) सुप्रीमो एम. करुणानिधि यानी मुत्तुवेल करूणानिधि एक शातिर राजनेता के साथ तमिल फिल्म इंडस्ट्री के जानेमाने स्क्रिप्ट राईटर भी थे। 94 वर्षीय करुणानिधि का आज निधन हो गया हैं। उनका ईलाज कावेरी हॉस्पिटल में चल रहा था। आइए जानते हैं उनके बारे में वो जो शायद अभीतक आपको पता नहीं है।

ये भी देखें : जिनके बड्डे पर मनाते हैं गुरु पूर्णिमा, महर्षि व्यास के बारे में 18 रोचक बातें

ये भी देखें : महाबलेश्वर के नजदीक हुआ सड़क हादसा, 33 यात्रियों को ले जा रही बस खाई में गिरी

  1. करुणानिधि को उनके समर्थक कलाईनार कहते हैं, ये एक तमिल शब्द है, जिसका अर्थ है 'कला का विद्वान'।
  2. करुणानिधि ने तमिल फिल्म इंडस्ट्री में स्क्रिप्ट राईटर के तौर पर अपना करियर शुरू किया।
  3. करुणानिधि ने जस्टिस पार्टी के अलगिरिस्वामी से प्रभावित हो राजनीति में प्रवेश किया।
  4. करुणानिधि 14 साल की उम्र से ही सक्रीय राजनीति में थे।
  5. अन्य दक्षिण भारतीय राजनेताओं की तरह करुणानिधि भी धर्म में अटूट विश्वास रखते थे इसीलिए बृहस्पति को शांत करने के लिए हमेशा पीला वस्त्र पहनते थे।
  6. करुणानिधि 5 बार बने सीएम रहे हैं।
  7. करुणानिधि पहली बार 1957 में विधायक बने थे।
  8. 1969 में तत्कालीन डीएमके अध्यक्ष और सीएम अन्नादुरई की मौत के बाद सीएम बने।
  9. साल 1971, 1989, 1996 और 2006 में भी वह तमिलनाडु के सीएम बने।
  10. कभी अपनी सीट नहीं हारी।
  11. करुणानिधि की राजनीति के केंद्र में हिंदी विरोधी आंदोलन हमेशा रहा।
  12. कल्लाकुडी में हिंदी विरोधी प्रदर्शन में करुणानिधि और उनके साथियों ने रेलवे स्टेशन से हिंदी नाम को मिटा दिया था
  13. ट्रेन रोकने के लिए करुणानिधि और उनके साथी पटरी पर लेट गए थे। इस विरोध प्रदर्शन में दो लोगों की मौत हुई थी।
  14. करुणानिधि को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। जब जेल से रिहा हुए तो राज्य के बड़े नेता बन चुके थे।
  15. करुणानिधि पर सरकारिया कमीशन द्वारा वीरानम परियोजना के लिए निविदाएं आवंटित करने में भष्टाचार का आरोप लगाया गया था।
  16. इस मामले में 2001 में उन्हें गिरफ्तार भी किया गया था। हालांकि करुणानिधि और उनके बेटे एम.के. स्टालिन के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं मिलने के कारण बाद में यह मामला खत्म हो गया।
  17. करुणानिधि ने भगवान राम पर विवादित बयान देते हुए कहा था 'कुछ लोग कहते हैं कि 17 लाख वर्ष पहले यहां एक व्यक्ति था, जिसका नाम राम था। उसने बिना छुए राम सेतु का निर्माण किया था। कौन है यह राम? किस इंजीनियरिंग कॉलेज से उसने स्नातक किया है? इसका किसी के पास कोई प्रमाण है?'
  18. श्रीलंका के आतंकी ग्रुप्स एलटीटीई (लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम) के चीफ प्रभाकरण के साथ करुणानिधि के मधुर संबंध रहे हैं।
  19. एलटीटीई ने पूर्व पीएम राजीव गांधी की हत्या करवाई थी।
  20. राजीव की हत्या की जांच करने वाले जस्टिस जैन कमीशन ने अपनी रिपोर्ट में एलटीटीई और करुणानिधि के संबंधों पर काफी कुछ कहा भी था।
  21. अप्रैल 2009 में करुणानिधि ने सबके सामने कबूला कि 'एलटीटीई चीफ प्रभाकरण मेरा अच्छा दोस्त है।' इसके साथ करुणानिधि ने कहा कि राजीव की हत्या के लिए देश एलटीटीई को कभी माफ नहीं कर सकता।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story