Top

मात्र 8 साल की उम्र में किया मारिया असलम ने हैरतंगेज काम, याद कर डाली पूरी 'कुरान'

By

Published on 25 Nov 2016 5:48 AM GMT

मात्र 8 साल की उम्र में किया मारिया असलम ने हैरतंगेज काम, याद कर डाली पूरी कुरान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

mariya-aslam

लंदन: इसे खुदा का करम ही कहेंगे, जिसे खुद उन्होंने इतनी बड़ी नेमत से नवाजा है। एक तरफ जहां आठ साल की उम्र में बच्चे खेल-कूद में अपना मन लगाते हैं। पढ़ाई का नाम लेते ही वे तरह-तरह के बहाने बनाने लगते हैं, वहीं लंदन में एक बच्ची पूरी की पूरी कुरान जुबानी याद करके अनोखी मिसाल बन गई है।

जी हां, लंदन के ल्युटॉन में रहने वाली बच्ची मारिया असलम ने यह हैरतंगेज काम सच साबित कर दिया है। मारिया की उम्र अभी केवल 8 साल है, लेकिन उन्हें कुरान का हर एल अल्फाज जुबानी याद है और तो और वह अपने आस-पड़ोस के लोगों को कुरान की तालीम भी देती हैं। कुछ समय पहले मारिया को 'इजाजा' से भी नवाजा गया है, जिसका मतलब होता है मारिया को पाक किताब याद करने और उसे सुनाने में महारत हासिल है।

आगे की स्लाइड में जानिए क्या कहना है पाक कुरान याद करने वाली मारिया असलम का

mariya-aslam4

कुरान मुस्लिमों की पाक किताब मानी जाती है बता दें कि पाक कुरान में 114 चैप्टर हैं, जिनमें कुल 75000 शब्द हैं। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि मासूम सि आठ साल की मारिया ने ये सभी शब्द अपनी जुबान पर रट लिए हैं। इतना ही नहीं सोशल मीडिया में मारिया की फैन फॉलोइंगभी जबरदस्त है।

ख़बरों की मानें तो मारिया ऑनलाइन ट्यूटोरियल शुरू करने जा रही हैं। अल्लाह के करम से नवाजी गई मारिया का कहना है कि 'मैं काफी खुश हूं मेरे ऊपर एक बड़ी ज़िम्मेदारी दी गई है। मैं अपनी एबिलिटी के मुताबिक इसे पूरा करने की भरपूर कोशिश करूंगी। मारिया असलम ने पांच साल की उम्र से ही क़ुरान पढ़ना शुरू किया था।

आगे मारिया का कहना है कि 'मैं मुस्लिम हूं और हमें बचपन से कुरान की तालीम दी जाती है। जब मैंने कुरान पढ़ना शुरू किया और मुझे आसान लगी, मैंने इसे याद करने का मूड बना लिया तो याद करना शुरू कर दिया।'

आगे की स्लाइड में जानिए क्या कहना है मारिया असलम की अम्मी का

mariya-mom

अपनी छोटी सी उम्र में बड़ा सा कारनामा करने वाली मारिया असलम की अम्मी का कहना है कि उन्हें अपनी बेटी पर फक्र है। मारिया को इस मुक़ाम तक पहुंचाने में उनका हमेशा साथ रहा है। साथ ही वह यह भी कहती हैं कि यह सब मारिया के लिए उतना मुश्किल नहीं था। वह टीवी भी देखा करती है और खिलौनों के साथ खेला भी करती हैं। दोनों में एक बैलेंस है फेसबुक पर मारिया असलम के 90 हजार से ज्यादा फॉलोवर है, वहीं तमाम लोग उनसे कुरान समझने के लिए कई लोग उनसे कांटेक्ट करते हैं।

आगे की स्लाइड में देखिए मारिया असलम की तस्वीर

mariya-aslam2

Next Story