Top

अब गांजा कारोबार में उतरी माइक्रोसॉफ्ट, स्टार्टअप कंपनी से किया करार

By

Published on 17 Jun 2016 3:46 PM GMT

अब गांजा कारोबार में उतरी माइक्रोसॉफ्ट, स्टार्टअप कंपनी से किया करार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: दुनिया की बड़ी कंपनियां कई बार ऐसा निर्णय लेती हैं जिससे आम आदमी चौंक जाते हैं। ऐसा ही एक निर्णय तकनीक की दुनिया की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने लिया है। माइक्रोसॉफ्ट अब 'गांजा' के धंधे में उतर गई है।

दरसअल, कंपनी ने कैलिफोर्निया के स्टार्टअप 'काइंड फाइनेंशि‍यल' के साथ एक करार किया है। यह कंपनी सरकार के लिए वैसे सॉफ्टवेयर तैयार करती है, जो गांजा कारोबार पर नजर रखने वाली एजेंसी की निगरानी में काम आता है।

ज्यादातर राज्यों में गांजा वैध

-गौरतलब है कि माइक्रोसॉफ्ट वाशिंगटन स्थित कंपनी है।

-अमेरिका के ज्यादातर राज्यों ने गांजा के इस्तेमाल को चिकित्सा और मौज-मस्ती के लिए वैध करार दिया है।

-केंद्रीय कानून की तरह ये अभी भी प्रतिबंधित है।

ये हुआ समझौता

-माइक्रोसॉफ्ट के साथ करार के तहत काइंड अब माइक्रोसॉफ्ट के Azure क्लाउड सर्विस पर काम करेगी। काइंड के सीईओ ने कहा, 'हमने करार किया है और अब हम इसके तहत माइक्रोसॉफ्ट की सेल्स टीम का भी इस्तेमाल करेंगे।'

करोड़ों डॉलर का है यह कारोबार

-अमेरिका में गांजा को लेकर राज्य और केंद्र में अगल कानून के कारण भ्रम की स्थ‍िति रहती है।

-इस कारण बड़ी कंपनियां अभी भी करोड़ों डॉलर के इस व्यापार में शामिल होने से लगातार बचती रही हैं।

-माइक्रोसॉफ्ट ने समाचार सेवा बीबीसी को एक ईमेल बयान में बताया कि यह साझेदारी सरकारी ग्राहकों और साझेदारों को उनके मिशन को पूरा करने में मददगार साबित होगी।

Next Story