Top

नोटबंदी के बाद हर लीकेज पर मोदी सरकार का फुल प्रूफ प्‍लान

By

Published on 15 Nov 2016 10:23 AM GMT

नोटबंदी के बाद हर लीकेज पर मोदी सरकार का फुल प्रूफ प्‍लान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: 'तुम डाल डाल हम पात पात' नोटबंदी के बाद ब्‍लैकमनी को ह्वाइट करनेे वालों पर यह लाइने बिल्‍कुल फिट बैठती हैं। मोदी सरकार ब्‍लैकमनी रखने वालों के मंसूबोंं पर पानी फेर रही है। ब्‍लैकमनी रखने वाले हर रोज नए नए हथकंडे अपना रहे हैं तो सरकार उनकी काट के लिए तरकीब निकाल रही है। मोदी सरकार ने अब इन पर लगाम लगाने के लिए फुल प्रूफ प्लान तैयार कर लिया है।

ब्‍लैकमनी की सफाई के लिए 8 नवंबर की रात 8 बजे पीएम मोदी ने 500 और 1000 की नोट बंद किए तो ब्‍लैकमनी रखने वालों की नींदें उड़ गईंं। ब्‍लैकमनी को ह्वाइट करने के लिए कई हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। कोई अपने वर्करों से 500 और 1000 की नाेट एक्‍सचेंज करवा रहा है तो किसी ने अपने कारिदों के जनधन एकाउंट में 2-2 लाख रुपए जमा करवा दिए हैं।

क्या हैं लीकेज प्वाइंट और मोदी सरकार ने कैसे निकाला तोड़

लीकेज 1

सरकार ने आम जन की जरूरतों को देखते हुए एक दिन में बैंक से पहले 4000 लेकिन बाद में 4500 रुपए एक्सचेंज करने की छूट दी। कुछ लोग इसका नाजायज फायदा उठा रहे हैं। वे एक आईडी पर एक दिन में कई बार एक्सचेंज कर रहे हैं।

क्या निकाला तोड़

अब बैंक से पैसा निकालने वालों की उंगली पर स्याही लगाई जाएगी। इससे उन लोगों की पहचान हो सकेगी जो पहले से ही बैंक से नोट एक्सचेंज कर चुके हैं। वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने कहा कि बार-बार नोट एक्सचेंज करने आ रहे लोगों की अब पहचान हो जाएगी।

लीकेज 2

नोटबंदी की खबर वायरल होने के बाद अचानक सोने समेत और जेवरातों के दामों में काफी उछाल आया। वजह थी लोग अपनी 500 और 1000 की ब्लैकमनी को सोने में तब्दील करने लगे। दुकानों पर जमकर खरीददारी हुई। इनकम टैक्स की नजरों से बचने के लिए लोगों ने अपने रिश्तेदारों और परिचितों के नाम पर सोने की खरीददारी की।

क्या निकाला तोड़

मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद आयकर विभाग और ईडी 8 नवंबर के बाद से सोना, हीरा और विदेशी मुद्रा खरीदने और बेचने वालों का वेरीफिकेशन करने जा रही है। सभी राज्यों में छिपे धनकुबेरों की लिस्ट बनाने की तैयारी दोनों विभागों ने शुरू कर दी है और आयकर विभाग ज्वैलर्स, धार्मिक संस्थानों पर भी नजर बनाए हुए है।

लीकेज 3

मोदी सरकार ने देश के हर आम आदमी को बैंकों से जोड़ने के लिए 'जनधन योजना' की शुरुआत की थी। इसके तहत विभिन्‍न बैंकों में जीरो बैलेंस पर सरकार ने खाते खुलवाए। नोटबंदी के बाद इन खातों में भी लाेग ब्‍लैकमनी जमा कर रहे हैं।

क्या निकाला तोड़

जनधन योजना के तहत बैंकों में खुले एकाउंट में जमा हो रहेे रुपयों की निगरानी के लिए मोदी सरकार ने टीम गठित कर दी है। मोदी सरकार ने इसके लिए स्‍पेशल टास्‍क फोर्स गठित कर दी है।

लीकेज 4

नोटबंदी के बाद बैंकों और एटीएम मशीनों के बाहर लंबी-लंबी लाइनेंं लग रही हैंं। विपक्ष इसको लेकर मोदी सरकार को घेरने की कोशिश कर रहा है। 500 और हजार की नोट बंद होने के बाद एटीएम मशीनों में सिर्फ 100 के नोट डाले जा रहे हैं, क्‍योंकि नए 500 अौर 2000 के नोटों को एटीएम मशीनों में लगे सेंंसर रीड नहीं कर पा रहेे हैं इसलिए मुश्किल हो रही है । बैंक कर्मचारियों को ऑफ के दिनों सेकेंड सटरडे और संडे को भी काम करना पड़ा।

क्या निकाला तोड़

वित्त मंत्रालय और रिजर्व बैंक ने माइक्रो एटीएम लगाने का फैसला किया है। ये एटीएम ही होते हैं, लेकिन इन्हें कहीं भी स्थापित किया जा सकता है। महज इंटरनेट कनेक्शन होने पर ही संबंधित बैंक का माइक्रो एटीएम चलाने वाला आपके खाते में रकम जमा भी कर सकता है और आपको रकम दे भी सकता है।

Next Story