Top

भाईदूज के दिन घर में सुलग रहा था पॉलिटेक्निक स्टूडेंट का शव, पर उसके बाद...

कानपुर ने रोंगटे खड़ी कर देने वाली घटना सामने आई है। शनिवार को पॉलिटेक्निक स्टूडेंट की बॉडी उसके ही घर के तीसरे फ्लोर पर मिली।

By

Published on 22 Oct 2017 7:40 AM GMT

भाईदूज के दिन घर में सुलग रहा था पॉलिटेक्निक स्टूडेंट का शव, पर उसके बाद...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: कानपुर ने रोंगटे खड़ी कर देने वाली घटना सामने आई है। शनिवार को पॉलिटेक्निक स्टूडेंट की बॉडी उसके ही घर के तीसरे फ्लोर पर मिली। पड़ोसियों ने जब तीसरी मंजिल से धुआं निकलते देखा, तो पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। इसके बाद दीवार फांद कर मेन गेट खोला।

क्षेत्रीय लोगों के साथ जाकर देखा तो छात्र की बॉडी से धुआं निकल रहा था। फ़ौरन उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के पैरेंट्स दीवाली के मौके पर वैष्णों देवी गए थे और अंकित घर पर अकेला था।

यह भी पढ़ें: शिरिष ने इस शख्स को कहा-हैप्पी भाईदूज,लोगों ने ट्रोल कर दी गालियां

बर्रा थाना क्षेत्र के विश्व बैंक ई ब्लॉक में रहने वाले प्रेम प्रकाश नगर निगम कर्मचारी हैं। परिवार में पत्नी मालती, बड़ा बेटा दीपक और छोटे बेटे अंकित के साथ रहते हैं। बड़ा बेटा दीपक नेवी में है और वह अपने परिवार के साथ मुंबई में रहता है, लेकिन दीवाली में वह पत्नी शीलम के साथ घर आया था। अंकित (23) फतेहपुर से पॉलिटेक्निक कर रहा था। प्रेम प्रकाश और मालती बीते 17 अक्टूबर को वैष्णों देवी गए थे। घटना के वक्त दीपक और उसकी पत्नी भी नहीं थी। दीपक अपने बड़े ताऊ के बेटी से भाईदूज कराने गया था और अंकित घर पर अकेला था।

यह भी पढ़ें: देवरिया: पत्नी के ह्त्या के आरोप में बंदी कैदी रायबारी गांव निवासी बुदधू ने की सुसाइड

क्या कहना है बड़े भाई का

दीपक ने बताया कि मैं दोपहर के वक्त ही पत्नी के साथ ताऊ की बेटी से तिलक कराने के लिए हंसपुरम चला गया था। जब मैं जा रहा था तो अंकित घर पर ही था, लेकिन उसके बर्ताव में कोई बदलाव महसूस नहीं हुआ था। वह हम लोगों से अच्छे ढंग से बात कर रहा था और हमने दीवाली में खूब पटाखे जलाये थे और बहुत इंजॉय किया था। लेकिन पता नहीं ऐसा क्या हुआ जो उसने इतना बड़ा कदम उठा लिया। यदि इसको किसी बात की कमी थी तो एक बार मुझे बताता तो।

उन्होंने बताया कि मेरे पास पड़ोसियों का फोन आया कि आप के घर पर आग लग गई है। तीसरे माले से धुआं निकल रहा है, तब मैंने ही कहा कि आप दीवार फांद कर या फिर कैसे भी जाकर देखो, मै भी आ रहा हूं।

क्या है अंकित के दोस्त का कहना

पड़ोस में रहने वाले मृतक अंकित के फ्रेंड राहुल ने बताया कि जब मैंने देखा की ऊपरी मंजिल से धुआं निकल रहा तो पहले सोचा कि हो सकता है क़ि यह धुंआ पटाखों का हो। लेकिन फिर मुझे लगा कि यह पटाखे का धुआं नहीं हो सकता। इसके साथ ही धुंआ देखकर क्षेत्र के लोग भी इकठ्ठा हो गए। हम लोगों ने इसकी सूचना दीपक को दी, फिर पुलिस को भी बताया। इसके बाद दीवार फांद कर अंदर से मेन गेट खोला और मोहल्ले के कई लोगों ने जाकर देखा तो वहां पर अंकित का शव पड़ा हुआ था। उसके शरीर के कपड़ों से धुआं निकल रहा था, वह पूरी तरह से झुलस चुका था।

सभी लोगों ने उसे उठाकर पास के निजी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

स्थानीय पवन के मुताबिक अंकित और उसका परिवार बहुत ही सीधा परिवार है। अंकित पढ़ने में बहुत अच्छा था। वह मोहल्ले के लोगों से ज्यादा मतलब नहीं रखता था। उसका ध्यान पढाई की तरफ ही रहता था। उन्होंने बताया कि शनिवार शाम साढ़े 5 बजे अंकित पार्क में टहल रहा था। लेकिन इसके बाद क्या हुआ कुछ पता नहीं।

क्या है पुलिस का कहना

वहीं बर्रा थानाध्यक्ष भास्कर मिश्रा के मुताबिक विश्व बैंक में एक लड़के ने सुसाइड किया है। सुसाइड की वजह से स्पष्ट नहीं हो पाई है। उसके पैरेंट्स भी नहीं हैं। फ़िलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। यदि परिजनों की तहरीर आती है तो उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Next Story