Top

शाही खानदान की इस शख्सियत ने सबसे पहले किया था ताज का दीदार

Admin

AdminBy Admin

Published on 16 April 2016 7:33 AM GMT

शाही खानदान की इस शख्सियत ने सबसे पहले किया था ताज का दीदार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः बेपनाह प्यार की खूबसूरत निशानी ताजमहल दुनिया के आठ अजूबों में से एक है। यही वजह है कि ब्रिटेन का शाही जोड़ा प्रिंस विलियम और केट मिडलटन आज आगरा में ताजमहल देखने आ रहे हैं। इससे पहले उनकी मां प्रिंसेज डायना और दादी क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय भी ताजमहल की खूबसूरती को निहार चुकी हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ब्रिटिश शाही परिवार से ताजमहल देखने वाली सबसे पहली शख्सियत कौन थी?

क्वीन मेरी थी ताज का दीदार करने वाली पहली शख्सियत

-ब्रिटिश शाही परिवार से ताजमहल देखने वाली सबसे पहली शख्सियत क्वीन मेरी थी।

-क्वीन मेरी 1911 में भारत दौरे पर आई थी।

-उन्होंने ताजमहल के साथ अकबर की राजधानी फतेहपुर सीकरी को भी देखा था।

-1911 में दिल्ली दरबार में भाग लेने के लिए किंग जाॅर्ज पंचम क्वीन मेरी के साथ आए थे।

बनाई गई थी फूस की कोठी

-ताज देखने के बाद क्वीन मेरी के आराम करने के लिए विशेष इंतजाम किया गया।

-इसके लिए शाहजहां गाॅर्डेन में फूस की कोठी बनवाई गई थी।

-महारानी आगरा में रूकने के बाद लखनऊ के पास जैदपुर गई थी।

-उन्होंने यह यात्रा रेल, मोटर कार और हाथी से पूरी की थी।

मंगवाई गई थी खास कटलरी

-महारानी के भोजन के लिए उस समय चांदी की कटलरी मंगाई गई थी।

-सर्किट हाउस के हाल में आज भी एक शोकेस में कटलरी रखी हुई है।

-यह चांदी की बनी हुई है।

-इसमें अब चाकू और छुरी ही बचे हैं।

शहर में महारानी से जुड़े हैं कई स्थल

-महारानी के आगरा दौरे पर सम्मान में जोंस परिवार ने उनके नाम पर एक लाइब्रेरी बनवाई थी।

-सदर बाजार में आज भी वो लाइब्रेरी है।

-ताज महोत्सव के चलते बीते दिनों वहां कार्यक्रम भी हुए हैं।

इन लोगों ने भी किया था ताज का दीदार

-क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय 1961 में

-प्रिंस चार्ल्स 1980 में

-प्रिंसेज डायना 1992 में

Admin

Admin

Next Story