रामदेव की Jeans में है पवित्र जेब, बचेगा अगरबत्ती का खर्च… 6 पॉइंट्स में जानिए कैसे

आशीष शर्मा 'ऋषि'
आशीष शर्मा ‘ऋषि’

आज के ज्ञानोदय के पहले साफ़ करना चाहता हूं कि हम किसी धर्म आस्था और भक्ति को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते। हमारी ये कृति शुद्ध हास्य पैदा करने के लिए है। यदि किसी की भावनाओं को धक्का लगता है तो हमें माफ़ करिएगा …..माफ़ी तलाफी हो गई तो अब शुरू करते हैं।

ये भी देखें : बहुत हुआ आटे-तेल का खेल, बाबा रामदेव अब बेचेंगे कोट-लंगोट

हमारे वर्ल्ड में युनिवर्सल फेमस बाबा राम देव कुछ वर्षों पहले तक धोती को प्रमोट करते रहे है। लेकिन जब से बनिया बने हैं उनको लाभ हानि समझ आने लगी है। आटे दाल से शुरू हुआ उनका कारोबार आज जींस तक पहुंच गया है। अब तो ऐसा लगता है कि कुछ दिनों में कंडोम से लेकर अंतिम संस्कार तक का सामान उनके स्टोर में मिलने लगेगा, जो वो नहीं बेचेंगे वो दुनिया में कहीं नहीं बिकेगा। फिलहाल आप ये याद रखिए कह रहीम चुप बैठिए देख दिनन के फेर ब्ला ब्ला ब्ला…वो इस लिए कि इसके आगे याद नहीं है। जींस कांड शुरू करते हैं। जानिए क्या खास है पतंजलि की जींस में जो दूसरी में नहीं मिलने वाला…

ये भी देखें : भोले बाबा के धाम में तेज प्रताप का पता चला, काशी विश्वनाथ मंदिर का करेंगे दर्शन

पतंजलि की जींस 5 सौ एक रुपए से लेकर दस हज़ार एक रुपए तक मिल रही है। मतलब किसी को न्योते में टिकानी हो तो एक रुपए का सिक्का खोजना नहीं पड़ेगा।

इस जींस में पतंजलि पहले से ही प्रसाद रखने के लिए एक पवित्र जेब बना कर दे रही। ताकि बाकी की जेब में और कुछ रखा जा सके।

ये जींस जब से आपके घर आ जाएगी आपके स्वास्थ्य के बारे में चौकन्नी रहेगी। मतलब हर धुलाई के बाद ये सिकुड़ना शुरू कर देगी ताकि आप इसमें फिट आने के लिए कुछ पसीना बहाने लगें।

ये भी देखें : कैसा रहेगा दिवाली का दिन आपके लिए, दिए की रोशनी से जगमगाएगा या होगा कुछ और

जींस पहने के पहले अनुलोम विलोम करना होगा वर्ना इसे पहनने की बात सोचिएगा भी नहीं।

जींस में प्री लोडेड खुशबु होगी। जो इसके साथ हमेशा बनी रहेगी इसका फायदा ये होगा कि धूप और अगरबत्ती का खर्चा नहीं होगा।

हम आप जैसे बंदें पुरानी जींस को गाड़ी साफ करने का कपड़ा बना लेते हैं। लेकिन इसके टैग के पास बोल्ड लेटर में वार्निंग लिखी गई है, इसका पोछा न बनाए वर्ना आप पर आने वाली कृपा हमेशा के लिए रुक जाएगी।