Top

लाखों लड़कियों को शौर्य दे चुके हैं DEFENCE TRAINING, मिनटों में चटा देती हैं धूल

शिफुजी शौर्य भारत के एलीट स्पेशल फोर्सेज के कमांडोज को ट्रेनिंग देते हैं। ये इंडिया के स्पेशल ब्लैक कैट कमांडो, नेवी के मार्कोज, इंडियन आर्मी के पैरा कमांडोज, एयरफोर्स के गरुड़ कमांडो​ के साथ साथ स्पेशल आर्म्ड फ़ोर्सेज़ के कमांडोज को मेंटोरशिप और ट्रेनिंग देते हैं।वह वर्ल्ड के बेस्ट कमांडो ट्रेनर और मार्शल आर्ट एंड अन आर्म्ड काम्बैट ट्रेनर हैं।

zafar

zafarBy zafar

Published on 22 Oct 2016 3:18 PM GMT

लाखों लड़कियों को शौर्य दे चुके हैं DEFENCE TRAINING,  मिनटों में चटा देती हैं धूल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लाखों लड़कियों को शौर्य दे चुके हैं DEFENCE TRAINING, 2 मिनट में चटा देती हैं धूल

लखनऊ: आर्मी के सबसे खतरनाक कमांडोज तैयार करने वाले और बड़े बजट की एक्शन फिल्मों में फाइट कोरियोग्राफी करने वाले शिफुजी शौर्य भारद्वाज शनिवार को 1090 महिला हेल्पलाइन के ऑफिस पहुचे। वहां उन्होंने अपने अनुभव शेयर करते हुए कहा कि मेरे पिताजी ने कहा था कि अगर तुमको 16 साल की उम्र में धमकी मिलना शुरू हो जाये तो समझ लेना कि तुम्हारी परवरिश जबरदस्त है। उन्होंने बताया कि उनके तेवरों के कारण उनको 16 साल की उम्र से किसी ना किसी से धमकी मिलना शुरू हो गई थी। पर उनका कोई बाल भी बांका नहीं कर पाया। इसके अलावा उन्होंने कहा कि जिस तरह चीन ने मार्शल आर्ट को एक धंधा बना दिया है, उससे बहुत दुःख होता है। इसीलिए चीन के खिलाफ हूं। जानिए शौर्य के सामने नवनीत सिकेरा ने क्यों कहा कि वो नहीं करेंगे अपनी बेटी का कन्या दान।

लडकियों को मत समझो सामान

-शिफुजी शौर्य ने कहा कि अक्सर लोग लडकियों को वस्तु या सामान समझते हैं। ये सोच बदलनी होगी।

-उन्होंने लडकियों को जूड़े की पिन, कड़ा और हाथ के सटीक इस्तेमाल से 2 मिनट में लडकों को धूल चटाने के गुर सिखाए हैं।

-उन्होंने 1090 में लखीमपुर से आई थारु जनजाति की लडकियों से मुलाकात करके उनका हौसला बढाया और उन्हें सेल्फ डिफेन्स के पैंतरे भी सिखाए।

-इस मौके पर 1090 के आईजी नवनीत सिकेरा ने कहा कि वो और उनकी वाइफ अपनी बेटी की शादी में कन्यादान की प्रथा नहीं फॉलो करेंगे।

-कन्या का सम्मान होना चाहिए, वस्तु नहीं है कि उसको दान कर दें।

कौन हैं शिफुजी शौर्य

-मूल रूप से जबलपुर के रहने वाले शिफूजी वर्ल्ड के बेस्ट कमांडो ट्रेनर और मार्शल आर्ट एंड अन आर्म्ड काम्बैट ट्रेनर हैं।

-ये भारत के एलीट स्पेशल फोर्सेज के कमांडोज को ट्रेनिंग देते हैं।

-इतना ही नहीं, ये इंडिया के स्पेशल ब्लैक कैट कमांडो, नेवी के मार्कोज, इंडियन आर्मी के पैरा कमांडोज, एयरफोर्स के गरुड़ कमांडो के साथ साथ स्पेशल आर्म्ड फ़ोर्सेज़ के कमांडोज को मेंटोरशिप और ट्रेनिंग देते हैं।

-ये अपने मिशन प्रहार के नाम से पिछले कई सालों में लगभग 39 लाख महिलाओं को सेल्फ डिफेन्स के गुर नि:शुल्क सिखा चुके हैं।

-बॉलीवुड की बड़े बजट की एक्शन फिल्मों में भी इनकी मदद ली जाती है।

-हाल ही में इन्होंने बागी फिल्म में चीफ एक्शन डिजाइनर, चीफ एक्शन मेंटोर और चीफ एक्शन कंसल्टेंट की भूमिका निभाई हैं।

आगे की स्लाइड में देखिए अन्य फोटो...

लाखों लड़कियों को शौर्य दे चुके हैं DEFENCE TRAINING, 2 मिनट में चटा देती हैं धूल

zafar

zafar

Next Story