Top

जानिए सोने से क्यों होती है उम्र कम, कहीं आप भी तो नहीं लेते कुंभकर्ण नींद

suman

sumanBy suman

Published on 22 Oct 2018 12:53 AM GMT

जानिए सोने से क्यों होती है उम्र कम, कहीं आप भी तो नहीं लेते कुंभकर्ण नींद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर:सोते समय हमें वास्तु नियम याद रखने चाहिए यह अच्छी नींद ही नहीं स्वास्थ्य के हिसाब से भी अच्छे माने जाते हैं। नींद लेना, सोना या आराम करना सेहत और शरीर के लिए बहुत आवश्यक है। पर कम ही लोग जानते हैं कि सोते समय भी हमें वास्तु नियमों का पालन करना चाहिए वरना जिंदगी में हमेशा परेशानियां बनी रहती हैं। सोना और आराम करना हमारी रोजमर्रा की दिनचर्या का हिस्सा है। पर आप अगर यूं ही कहीं भी सो जाते हैं तो सतर्क हो जाएं। वास्तु शास्त्र के नियमों के अनुसार हमेशा पूर्व व दक्षिण की तरफ सिर करके सोना चाहिए। उत्तर या पश्चिम की तरफ सिर करके नहीं सोना चाहिए। यह शुभ नहीं माना जाता है। सोने के लिए भी कुछ वास्तु नियम बनाए गए हैं। जिनका पालन करने से हमारी सेहत तंदुरुस्त तथा निरोगी रहती है। इसलिए आज हम आपको बता रहे हैं कि सोते समय किन वास्तु नियमों को याद रखना चाहिए।

वास्तु नियम दक्षिण की तरफ सिर करके सोने से आयु की वृद्धि होती है। दिन में नहीं सोना चाहिए, दिन में सोने से रोग उत्पन्न होते हैं। सुश्रुत संहिता के अनुसार सभी ऋतुओं में दिन में सोना निषिद्ध है, परन्तु ग्रीष्म ऋतु में दिन में सोना निषिद्ध नहीं है। पूर्व की तरफ सिर करके सोने से बुद्धि प्राप्त होती है। पश्चिम की तरफ सिर करके सोने से मानसिक विकार प्राप्त होते है।

उत्तर की तरफ सिर करके सोने से हानि होती है तथा आयु क्षीण होती है। सोने से पहले ललाट से तिलक और सिर से पुष्प का त्याग कर देना चाहिए। जाबांस या पलाश की लकड़ी से बने पलंग पर नहीं सोना चाहिए एवं सिर को नीचे लटका कर नहीं सोना चाहिए।

suman

suman

Next Story