Top

बहराइच में शादी के मौके पर पुलिस वालों ने ऐसा क्या किया, जो बन गया चर्चा का विषय

suman

sumanBy suman

Published on 5 April 2017 5:41 AM GMT

बहराइच में शादी के मौके पर पुलिस वालों ने ऐसा क्या किया, जो बन गया चर्चा का विषय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बहराइच: बहराइच के नानपारा कस्बा चौकी में एक ऐसी शादी हुई। जिसे पुलिस वालों ने करवाया है। ये शादी किसी पुलिस वालों की बेटी की नहीं, बल्कि उनके रसोईए की बेटी हुई। अब तक पुलिस महकमा अवैध वसूली और दबंगई के लिए ही जाना जाता रहा है। लेकिन जिस तरह से पुलिस वालों ने अपने रसोईए की बेटी की शादी करवाई है। वो काबिले तारीफ है। इससे समाज में उनका मान बढ़ गया है। मामला नानपारा कस्बा चौकी का है। मंगलवार को चौकी में विवाह का मंडप सजाया गया और पुलिस वालों ने अपने गरीब रसोइया की बेटी की विधि विधान से शादी कराई।

आगे...

नानपारा कोतवाली क्षेत्र के केवलपुर गांव निवासी गौरी क़स्बा चौकी में बीते 6 साल से अस्थाई रसोइया है। वह चौकी में ही रहता है। गौरी ने अपनी बेटी ननकई की शादी नेपाल के अजय कुमार से तय की थी। लेकिन शादी में होने वाले खर्चे को लेकर परेशान रहता था। यह बात जब एसआई सुधीर कुमार को मालूम हुई तो उन्होंने अन्य साथियों से राय मशविरा कर विवाह के खर्च को उठाने का मन बना लिया। चौकी के हर सिपाही और दारोगा ने शादी के खर्चे की लिस्ट तैयार की और एक एक जिम्मेदारी निभाने का वचन दिया। तय तारीख के अनुसार मंगलवार को शादी का कर्यक्रम संपन्न हुआ। कलेवा रस्म अदायगी के दौरान चौकी इंचार्ज अशोक सिंह, एसआई जीतेंद्र प्रताप सिंह, उमाकान्त मिश्रा, सिपाही सुनील कुमार गुप्ता, लक्ष्मण प्रसाद, अजीत कुमार शुक्ला, रफीक, वसीम, पंकज पांडेय, श्यामजी आदि पुलिस वालों ने दूल्हा अजय को उपहार भेंट किए। इस दौरान बेटी की शादी को पूरा होते देख गौरी के आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे। आपसी सहयोग से हुई चौकी की ये शादी पुलिस वालों की बेहतर छवि लाने का काम करती है। साथ ही, ये भी दर्शाती है कि वर्दी में छिपी दबंगता के पीछे एक इंसानी दिल भी है जो दूसरों का भला सोचता है।

suman

suman

Next Story