Top

नहीं जाते मंदिर, नहीं करते रोज पूजा तो परेशान ना हो करें ये काम होंगे भगवान आपके साथ

suman

sumanBy suman

Published on 15 Oct 2018 4:25 AM GMT

नहीं जाते मंदिर, नहीं करते रोज पूजा तो परेशान ना हो करें ये काम होंगे भगवान आपके साथ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर:रोज पूजा-पाठ और मंदिर जाना धर्म-शास्त्रों में जरूरी बताया गया है। जीवन में कई परेशानियों को दूर करने के लिए मेहनत के साथ ही भाग्य का साथ मिलना भी जरूरी है। इसलिए लोग भगवान के आगे सिर झुकाते हैं। अगर कुंडली में ग्रहों के दोष होते हैं या जाने-अनजाने में कोई पाप हुआ है, तो जीवन में आसानी से सफलता नहीं मिल पाती है। ऐसे में देवी-देवताओं की पूजा करने से परेशानियों को कम किया जा सकता है।ज्योतिष के अनुसार कुंडली के दोष दूर करने के लिए रोज मंदिर जाकर भगवान की पूजा करनी चाहिए। पूजा के अलावा घर में रोजाना दिया-बाती करना आवश्यक है। अगर आपके पास समय की कमी हो। ऐसे में आपके पास मंदिर जाने या रोजाना पूजा-पाठ में लंबा समय न दें सकें तो क्या करें?

*आजकल बढ़ती व्यस्तता के कारण अधिकतर लोग रोज मंदिर नहीं जा पाते हैं। ऐसे में हमें जब भी कहीं मंदिर दिखाई दे तो उसके शिखर के दर्शन अवश्य करना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार शिखर दर्शन करने से भी वही पुण्य मिलता है जो मंदिर के अंदर स्थापित प्रतिमा के दर्शन से मिलता है। इसीलिए शास्त्रों में कहा गया है शिखर दर्शनम् पाप नाशम्. यानी शिखर के दर्शन से पापों का नाश होता है।

*किसी बड़े मंदिर नहीं जा पाते हैं तो घर के मंदिर में रोज पूजा अवश्य करें। अगर घर के मंदिर में पूजा के लिए भी ज्यादा समय नहीं मिलता है तो रोज सुबह-शाम भगवान के सामने घी का दीपक अवश्य जलाएं। ऐसा करने से घर में सकारात्मकता बनी रहती है। आप नहा-धोकर सिर झुकाएं और दिया जलाएं। इससे ही कृपा बनी रहेगी।

*भगवान की कृपा बनाएं रखना चाहते हैं तो गरीबों को जरूर दान करें। जरूरी नहीं लोग मंदिर जाएं लोगों की मदद और दान करने से भगवान खुश होते हैं। दानी-दयालु व्यक्ति धरती पर देवता स्वरूप ही माने जाते हैं।

ध्यान रखें आप भले ही रोज विधि-विधान से पूजा न कर पाते हों, लेकिन घर के मंदिर की सफाई रोज होनी चाहिए। अगर मंदिर की सफाई रोज नहीं करेंगे तो घर में दोष बढ़ेंगे और देवी-देवता की कृपा नहीं मिल पाएगी।

*घर के बड़े-बुजुर्गों की सेवा करें। बड़े-बुजुर्गों की सेवा करें और उनका आशीर्वाद गृहण करें। उनकी दी हुईं दुआएं आपके भाग्य में साथ देंगी।

suman

suman

Next Story