Top

आखिर ब्रांडेड कपड़े में चंदे के नाम पर युवतियां क्यों मांग रही हैं भीख, पुलिस करेगी जाँच

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 14 Jun 2017 2:24 PM GMT

आखिर ब्रांडेड कपड़े में चंदे के नाम पर युवतियां क्यों मांग रही हैं भीख, पुलिस करेगी जाँच
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में कुछ युवतियां ब्रांडेड कपड़ों और फुल मेकअप में चंदे के नाम पर भीख मांग रही हैं। ऐसी ही संदिग्ध दर्जन भर युवतियों की जानकारी पुलिस प्रशासन को मिली, जिसके बाद पुलिस जांच में जुटी है।

ये हाई प्रोफाइल भिखारी युवतियां अलग-अलग क्षेत्रों में ग्रुप बनाकर चंदे के रूप में भीख मांगती नजर आ रही हैं। लोग भी इन्हें देख कर काफी हैरत में हैं कि पढ़ी-लिखी दिखने वाली लड़कियां आखिर ऐसा काम क्यों कर रही हैं। पुलिस पूछताछ में लड़कियां खुद को गुजरात की रहने वाली बता रही हैं। साथ ही परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने का हवाला दे रही हैं। मुरादाबाद पुलिस इन संदिग्ध युवतियों की जानकारी के लिए गुजरात पुलिस से संपर्क कर सच्चाई जानने की कोशिश कर रही है।

एसएसपी मनोज तिवारी ने बताया, "सूचना मिली थी कि चार से पांच युवतियां हैं, जो अच्छे लिबास में शहर में चंदे के नाम पर लोगों से भीख मांग रही हैं। ये शिक्षित भी लग रही है, साथ ही आर्थिक रूप से भी ठीक-ठाक लग रही हैं। इनके ऊपर लोगों ने आरोप लगाया है कि इनके द्वारा चंदा या चंदे की शक्ल में भीख मांगी जा रही है। इन युवतियों के बारे में पता किया जा रहा है, पूछताछ की जा रही है।"

एसएसपी ने बताया, "इन युवतियों की गतिविधि संदिग्ध पाई गई है। ये लोगों से पैसा क्यों मांग रही हैं, निश्चित रूप से इनके विरुद्ध विधित कार्रवाई का औचित्य प्रतीत हो रहा है। इसलिए महिला थाना को इस संबंध में आदेश दे दिए गए हैं कि इनके बारे में पूरी पड़ताल करें कि ये कहां की रहने वाली है, यहां क्यों आई हैं। जांच पड़ताल कर इनके विरुद्ध कार्रवाई की जाए।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story