Top

कई रहस्यों की खान है वर्ल्ड की सबसे बड़ी गुफा, देखकर रह जाएंगे दंग

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 2 Jun 2016 8:22 AM GMT

कई रहस्यों की खान है वर्ल्ड की सबसे बड़ी गुफा, देखकर रह जाएंगे दंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वियतनाम: वैसे तो आपने कई विशाल और खूबसूरत गुफाएं देखी होंगी, लेकिन क्या आपने कभी दुनिया की सबसे बड़ी और खूबसूरत गुफा के बारे में सुना या देखा है? ये गुफा आपकी सोच से भी ज्यादा बड़ी है। इस गुफा को देखकर आप अपने दांतो तले उंगलियां दबा लेंगे।

DBG

सून डूंग की नैचुरल खूबसूरती

वियतनाम की सन डूंग (Son Doong) गुफा को दुनिया की सबसे बड़ी गुफा होने का दर्जा हासिल है। इसे सबसे विशाल गुफा कहने के साथ-साथ दुनिया की सबसे खूबसूरत गुफा कहना भी गलत नहीं होगा। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस गुफा को एक किसान ने 1991 के आस-पास खोजा था।

CAVES

जमीन से 490 मीटर नीचे

वियतनाम के जंगलों की गहराई में छिपी है विश्व की सबसे बड़ी और सबसे लम्बी भूमिगत गुफा भी है। कुछ साल पहले तक मनुष्य से ये गुफा एकदम अछूती रहीं। इस गुफा की नैसर्गिक खूबसूरती भी अद्भुत है। शेडोंग या माऊंटेन रिवर केव नामक ये गुफा आसपास की जमीन से 300 मीटर नीचे स्थित है जो 8.9 किलोमीटर लम्बी है। इसका सबसे गहरा स्थान धरातल से 490 मीटर नीचे है। ये लगभग 656 फुट ऊंची और 262 फुट चौड़ी है कहीं-कहीं ये 492 फुट चौड़ी हो जाती है।

CAVE12

गुफा के अंदर है नदी

इसके अंदर 1.6 मील लम्बी नदी भी बहती है। गुफा की खोज 1991 में एक किसान हो खान ने की थी, लेकिन पानी की भयंकर गर्जना और अंधेरे के कारण किसी ने भी गुफा के अंदर जाने की हिम्मत नहीं की। दरअसल, हो खान ने जंगलों में एक विशाल गुफा देखने के बारे में ब्रिटिश गुफा खोजी हॉवर्ड लिम्बर्ट को बताया था।

CAVE

किसान की खोज से दिखा अद्भुत नजारा

परंतु उसे पक्का पता नहीं था कि ये कितनी विशाल है। इस गुफा के अंदर की दुनिया इसकी खोज के 18 सालों तक यानी 2009 तक लोगों के लिए अनजान रही। सन् 2009 में हॉवर्ड ने ब्रिटिश केव रिसर्च एसोसिएशन के साथ मिल कर एक अभियान चलाकर इसके अंदर की झलक दुनिया को दिखलाई और इस गुफा के बारे में दुनिया को बताया। ब्रिटेन और वियतनाम के 13 खोजियों के संयुक्त दल ने इसकी जांच की थी।

SUMAB

लेकिन उनका अभियान बीच में ही एक बहुत बड़ी दीवार के कारण रुक गया था। इस गुफा से निकासी का रास्ता 2010 में खोजा गया जब एक दल ने उस 200 मीटर ऊंची दीवार को पार किया। उसके बाद यह गुफा दुनियाभर में मशहूर हो गई।यह वियतनाम के क्वांग बिन्ह प्रांत में स्थित फांग न्हा-के-बांग नैशनल पार्क में स्थित है।

CAVE1

वर्ल्ड की लार्ज एंड बेस्ट गुफा

इसकी खोज होने से पहले तक दुनिया की सबसे बड़ी गुफा मलेशिया के बोर्नो टापू की डीर केव को माना जाता था। शेडोंग (माऊंटेन रिवर केव) गुफा इससे कई गुना बड़ी है। वियतनाम का यह वह क्षेत्र है जहां चूना पत्थर की गुफाएं भरी पड़ी हैं। उनके विषय में जानना खोजकर्त्ताओं के लिए बहुत कठिन काम है।

CAVE23

खोजी दल ने इन गुफाओं का आकार जानने के लिए लेजर तकनीक का प्रयोग किया है। शेडोंग गुफा को माऊंटन रिवर केव के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि ये राओ थुनोई नदी के करीब स्थित है। यहां तस्वीरें लेने वाले जर्मन फोटोग्राफर कार्सटन (कस्र्टन) पीटर के अनुसार उन्होंने 2010 में इस जगह को कुछ ब्रिटिश और जर्मन गुफा-खोजियों (केवर्स) के साथ देखा।

CAVE5

जो भी देखा हो गया रोमांचित

उनका इरादा गुफा के अनदेखे पहलुओं को कैमरे में कैद करना था। दो हफ्ते तक गुफा में बिताने वाले कस्टन ने बताया कि इस दौरान उन्होंने गुफा के कुछ नए हिस्सों को देखा और उनकी फोटोज खींचीं।

CAVE13

जब से दुनिया की इस सबसे बड़ी गुफा की खोज हुई है रोमांच की तलाश में रहने वाले लोग इसकी तरफ काफी आकर्षित हो रहे हैं। लोगों का इसके प्रति आकर्षण इतना अधिक है कि 2015 के लिए भी यहां टूर की बुकिंग बंद हो चुकी है।

CAVE-IN

गुफा में जाने के लिए 2 लाख करते है अदा

इस गुफा के 6 दिन के टूर के लिए पर्यटकों को लगभग 2 लाख रुपए अदा करने पड़ते हैं। 1 महीने में चार टूर ही आयोजित किए जाते हैं और 1 टूर में मात्र 8 पर्यटकों को शामिल किया जाता है।

CAVE-MEN

गुफा के टूर के लिए लम्बी ट्रैकिंग से लेकर पर्वतारोहण तक कई अनुभव एक साथ होते हैं। इस साल टूर की अवधि को 3 महीने से बढ़ा कर 7 महीने (फरवरी-अगस्त) कर दिया गया।

CAVE67

वियतनामी दीवार के रुप में फेमस

गुफा की विशालता का अनुमान इसी बात से लग सकता है कि इसके भीतर एक पूरा जंगल उगा हुआ है। असल में गुफा के सबसे बड़े हिस्से के ऊपर की छत का एक हिस्सा अपने ही भार से गिरा हुआ है जिससे गुफा के इस भाग में सूर्य की रोशनी आती है।

CAVE123

गुफा के भीतर ही पहले जंगल से यहां तक पहुंचने में डेढ़ दिन लग जाता है। इतना ही नहीं गुफा में बादल भी बनते हैं। यह गुफा अपने आप में बहुत विलक्षण है जहां लाखों साल पुराने जीवाश्म भी मिले हैं। गुफा में 8 किलोमीटर भीतर जाने पर वह 200 मीटर ऊंची दीवार दिखाई देती है जो अब वियतनामी दीवार के नाम से मशहूर है।

CAVE13

Newstrack

Newstrack

Next Story