Top

VIDEO: ऐसी 'मोदीगिरी' कि खिल उठे चेहरे, देखिए महिला ने कैसे बनाया सबको अपना मुरीद

aman

amanBy aman

Published on 23 Nov 2016 3:43 PM GMT

VIDEO: ऐसी मोदीगिरी कि खिल उठे चेहरे, देखिए महिला ने कैसे बनाया सबको अपना मुरीद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

VIDEO: ऐसी गांधीगीरी कि खिल उठे चेहरे, देखिए बुजुर्ग ने कैसे बनाया सबको अपना मुरीद

लखनऊ: एसबीआई बैंक शाखा, इंदिरानगर में बुधवार दोपहर दो बजे कुछ ऐसा हुआ जो सभी के दिल को छू गया। इस शाखा में एक बुजुर्ग महिला आईं और बैंक के सभी कर्मियों को न सिर्फ गुलाब का फूल दिया बल्कि 'थैंक यू' भी कहा।

इसका असर भी हुआ। थोड़ी देर के लिए ही सही बैंक कर्मचारी, जो पिछले दो सप्ताह की थकान से चूर थे, कुछ समय के लिए वो सब भूल गए और मुस्कुराते हुए फूल लिया।

मौजूद लोगों ने ताली बजाकर उत्साह बढ़ाया

कहते हैं मुस्कान संक्रामक होती है। बुजुर्ग महिला का ये प्रयास लाइन में खड़े लोगों को भी अपनी तकलीफ भूलने और मुस्कुराने पर मजबूर कर दिया। और तो और सभी लोगों ने ताली बजाकर बैंक कर्मचारियों का उत्साह बढ़ाया।

मायूस चेहरे खिल उठे

आम तौर पर नोटबंदी के बाद हर तरफ लंबी कतारें और मायूस चेहरे नजर आ रहे हैं। ऐसे में इस बुजुर्ग महिला की एक छोटी सी पहल तपते रेगिस्तान में ठंडे पानी की बूंद की तरह नजर आई जिसने काउंटर के इधर और उधर दोनों तरफ के माहौल को खुशनुमा बना दिया।

आप सरहद के सिपाही की तरह

उस बुजुर्ग महिला ने फूल देते हुए बैंक कर्मचारियों की तुलना सरहद पर देश की रक्षा करने वाले सिपाहियों से की। कहा, आप सभी लोग सरहद के सिपाहियों की तरह काम कर रहे हैं। बिना आपकी मदद के हम कुछ भी नहीं कर सकते। इसलिए मेरी तरफ से आप लोगों को सल्यूट।

लाखों लोगों ने देखा वीडियो

एसबीआई में काम करने वाले कर्मचारी प्रशांत सिंह ने ये वीडियो बनाते हुए कभी नहीं सोचा होगा कि सोशल मीडिया पर इस वीडियो को ऐसा रिस्पांस मिलेगा। अब तक लगभग 2 लाख लोग इस वीडियो को देख चुके हैं। लगातार इसे शेयर भी किया जा रहा है। प्रशांत ने कहा कि 'किसी नागरिक से ऐसा रिस्पांस मिलना आश्चर्यजनक था।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story